जयपुर।

जयपुर जैन समाज का गौरव तीर्थ अतिशय क्षेत्र बाड़ा पदमपुरा की पदयात्रा में श्रावक और श्राविकाओ ने बड़ी उत्साह के साथ भाग लिया। यात्रा शनिवार को दोपहर 3 बजे शहर के गणिनी आर्यिका विज्ञाश्री माताजी से आशीर्वाद प्राप्त कर वरुण पथ, मानसरोवर से प्रारम्भ होकर हिरा पथ, मीरा मार्ग, थड़ी मार्किट, एसएफएस कॉलोनी होती हुई प्रताप नगर हल्दीघाटी मार्ग के शहनाई गार्डन पर जा कर रुकी, जहाँ पर शहर के अन्य स्थल जगतपुरा, बरकत नगर, मधुवन कॉलोनी, कीर्ति नगर के यात्री एकजुट हुए और सांध्यकालीन भोजन कर पुनः 7 बजे पदमपुरा के लिए प्रस्थान किया।

जिला उपसंगठन मंत्री अनंत जैन ने बताया कि यात्रा रविवार को अल्पप्रातः 3 बजे अतिशय क्षेत्र बाड़ा पदमपुरा नाचते – गाते पहुंची और प्रातः 6 बजे उपस्थित यात्रियों ने भगवान पदमप्रभ के कलशाभिषेक कर पूजन अर्घ चढाये।

पूजन के पश्चात् युवा परिषद द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जिसकी मांगलिक शुरुवात नविन कुमार राजकुमार बाकलीवाल द्वारा पदमप्रभ भगवान के चित्र के सम्मुख दीपप्रवज्जलन एवं प्रेरणा लुहाड़िया, अंजना जैन, भानुप्रिया जैन द्वारा मंगलाचरण कर की।

पदयात्रा मुख्य संयोजक अनिल पाटनी ने बताया कि 18 वीं पदमपुरा पदयात्रा के साथ रविवार को क्षमावाणी पर्व भी मनाया गया। समारोह के दौरान युवा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री उदयभान जैन, प्रदेश अध्यक्ष दिलीप जैन, विमल बज, जिला सलाहकार शैलेंद्र छाबड़ा, अखिल भारतीय दिगम्बर जैन युवा एकता संघ राष्ट्रिय अध्यक्ष एवं आम आदमी पार्टी नेता अभिषेक जैन बिट्टू, मानसरोवर संभाग मंत्री पुलकित जैन, सलाहकार जयंत छाबड़ा, संगठन मंत्री ललित जैन, नरेश शाह सहित विभिन्न श्रेष्ठियों ने भाग लिया।

जिनका अतिथि सत्कार जिला अध्यक्ष देवेंद्र बोहरा, महामंत्री विनोद पापड़ीवाल, कोषाध्यक्ष विनोद जैन (मास्टरजी), मानसरोवर संभाग अध्यक्ष प्रणब लुहाड़िया, संयोजक पंकज गंगवाल, नेमीचंद जैन द्वारा किया गया।

पदयात्रा में सम्मिलित सभी पदयात्रियों को पुरुस्कार भी प्रदान किये गए एवं विभिन्न श्रेणियों में शामिल विकलांग पदयात्री सुधीर जैन, यात्रा प्रारम्भ से अंत तक ध्वजा लेकर चले महावीर जैन, विशेष योगदान के लिए नितेश सौगानी सहित पदयात्रियों को सम्मान किया गया। कार्यक्रम के दौरान सभी यात्रियों ने हाऊजी प्रतियोगिता खेली और पुरुस्कार जीते।

जिला अध्यक्ष देवेंद्र बोहरा ने बताया कि रविवार को पदयात्रा के साथ क्षमावाणी पर्व भी मनाया गया। इस दौरान युवा परिषद के सभी पदाधिकारियों एवं सदस्यो ने क्षमाभाव धारण कर सभी क्षमायाचना की ओर सभा संबोधन के दौरान क्षमाभाव धारण करने का संदेश प्रदान किया।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।