New delhi

शनिवार से शुरू हुई दो दिवसीय बीजेपी सांसदों की कार्यशाला में दुनिया के सबसे ताकतवर व्यक्ति माने गए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सांसदों के बीच की पंक्तियों में बैठे नजर आए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा सांसदों के बीच में बैठने की फोटोस और वीडियोस सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, और लोग इसको प्रधानमंत्री की आदर्श छवि से जोड़कर देख रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा कार्यशाला में सांसदों के बीच पीछे की लाइनों में बैठने के कारण भाजपा के सभी सांसद चौक गए।

बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सांसदों के बीच में बैठकर सभी सांसदों को आचरण नियंत्रण में रखने और अहंकारी प्रवृत्ति से दूर रहने की अपील की है।

इस तरह से प्रधानमंत्री को अपने बीच बैठे देखकर सांसदों के लेकिन सदन में अग्रिम पंक्तियों में स्थान नहीं मिलने को लेकर जहां अनेक नेता नाराज हो रहे थे, वहीं मोदी ने संदेश दिया कि आगे और पीछे बैठने से कुछ नहीं होता है व्यक्ति के कर्म आगे होने चाहिए।

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सांसदों को सांसद निधि खर्च करने के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी प्रधानमंत्री ने बताया कि सांसद निधि का अधिकांश हिस्सा जनता के बीच बैठे आखिरी व्यक्ति के जन कल्याण के लिए खर्च होना चाहिए।

इसी कार्यक्रम में भारत के गृह मंत्री अमित शाह और देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के अलावा भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत बीजेपी के सभी सांसद मौजूद रहे।

बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज इस कार्यशाला के दूसरे दिन समापन भाषण देंगे।