‘गहलोत कौन होते हैं मुख्यमंत्री बनाने वाले?’

2258
- नेशनल दुनिया पर विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 9828999333-
dr. rajvendra chaudhary jaipur-hospital

जयपुर।


राजस्थान में चुनाव सम्पन्न् होने के बाद ही कांग्रेस में मुख्यमंत्री के लिए कवायद तेज हो गई है। टीवी चैनल्स के द्वारा कांग्रेस को बहुमत में दिखाने के तुरंत बाद जहां अशोक गहलोत दिल्ली रवाना हो गए, वहीं सचिन पायलट भी अपने जोड़तोड़ में लगे हुए हैं।

इसी गुणा भाग की भागमभाग के बीच कांग्रेस के जयपुर शहर अध्यक्ष प्रतापसिंह खाचरिवास ने बड़ा बयान देकर राजनीति में हलचल पैदा कर दी है। खाचरिवास ने एक टीवी चैनल को दिए गए इंटरव्यू में कहा कि गहलोत साब कौन होते हैं मुख्यमंत्री बनाने वाले?

प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि राजस्थान की जनता विधायकों को जिता कर भेजती है, इसलिए मुख्यमंत्री का फैसला विधायक करेंगे एक विधायक नहीं करेगा।

प्रताप सिंह खाचरियावास के इस बयान के बाद राजनीतिक गलियारों में तरह-तरह की चर्चाएं होने लगी है, और कांग्रेस पार्टी में अंदरुनी कलह एक बार फिर से सतह पर आ चुकी है।

मुख्यमंत्री के सवाल पर बोलते हुए खाचरिवास ने यह बात कहकर कांग्रेस में हलचल पैदा कर दी है कि राज्य में मुख्यमंत्री चुनना इतना आसान नहीं है, भले ही कांग्रेस सत्ता में आ जाए। वीडियो हमारे पास मजूद है।

इससे पहले कल ही जोधपुर में मीडिया से बात करते हुए अशोक गहलोत ने कहा था कि राजस्थान में मुख्यमंत्री कौन होगा, यह तय करना आलाकमान का काम है, वहीं से सीएम तय किया जाएगा।

गहलोत के इस बयान पर कांग्रेस पार्टी में तरह तरह की चर्चा है, वहीं सचिन पायलट की तरफ से कोई जवाब नहीं आने के कारण अभी विवाद बढ़ने की स्थिति में नहीं है, लेकिन खाचरिवास ने जरूर कईयों की धड़कनें बढ़ा दी हैं।

गौरतलब है कि राजस्थान में सचिन पायलट और अशोक गहलोत के बीच मुख्यमंत्री की उम्मीदवारी को लेकर पिछले 2 साल से शीत युद्ध चल रहा है। प्रताप सिंह खाचरियावास को सचिन पायलट के गुट से माना जाता है।