abhinandan varthman

नई दिल्ली।
पाकिस्तानी F16 को मारने के दौरान भारत के MIG21 के साथ पाक सीमा में गए विंग कमांडर (wing commander) अभिनंदन वर्धमान को आज शाम तक छोड़े रहा है। पाक आज अटारी बॉडर से भारत को सौंप देगा।

एक टीवी चैनल (TV Chanel) ने दावा किया है कि विंग कमाउंर अभिनंदन से जब 2011 में हुए इंटरव्यू के दौरान पूछा गया था कि पायलट बनने के लिए क्या जरूरी है? तब उन्होंने कहा था कि बैड एटीट्यूड का होना जरूरी है। तब विंग कमांडर सुखोई विमान उडाया करते थे।

बता दें कि 34 वर्षीय विंग कमांडर अभिनंनदन जब भारत के मिग21 बायसन से पाक के 24 एफ16 का पीछा करने के दौरान पाक की सीमा में गिर गए थे। उन्होंने मिग21 से पाक के अत्याधुनिक एफ16 को मार गिराया था।

जब भारत की ओर से 8 विमान पाकिस्तान के 24 एफ16 से उलझे हुए थे, तभी उनकी तरफ से आर73 मिसाइलों से हमला किया गया था। भारत के 8 विमानों ने पाक के 24 फाइटर प्लेन को खदेड़ दिया था।

वायुसेना के पायलट अभिनंनद वर्धमान ऐसे परिवार से हैं, जिसका एयरफोर्स में सेवा करने का पीढ़ि‍यों का ट्रैक रिकॉर्ड रहा है। अभिनंदन वर्धमान के पिता एस वर्धमान भी एक एयर मार्शल थे। उन्‍होंने भी पाकिस्‍तान के साथ हुए वर्ष 1999 के कारगिल वॉर में हिस्‍सा लिया था। इतना ही नहीं, अभिनंदन वर्धमान के दादा सिम्‍हाकुट्टी भी दूसरे विश्‍वयुद्ध में वायुसेना में अपनी सेवाएं दी थीं।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।