Bjp statment on nirav modi
Bjp statment prakash jawdekar on nirav modi

Jaipur news.

1 दिन पहले लंदन में भारत के भगोड़े नीरव मोदी के देखने के बाद हिंदुस्तान में सियासत मार रही है। लंदन का वीडियो आने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोला तो मोदी के मंत्री ने कांग्रेस से ही कई सवाल पूछ डाले।

ऐसा लग रहा है भारत के भगोड़े नीरव मोदी, विजय माल्या और ललित मोदी जैसे लोगों की वजह से सियासत में चर्चा होना आम बात हो गई है। इस बीच सवालों के साथ भारतीय जनता पार्टी ने नीरव मोदी पर की गई कार्रवाई का ब्योरा पेश किया है।

मीडिया से बात करते हुए जयपुर में मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मोदी के खिलाफ की गई कार्रवाई ब्यौरा दिया है। देखिए बिन्दुवार-

-विज्ञापन -

-Punjab National Bank (PNB) घोटाले के क्लास 11 दिन के भीतर प्रवर्तन निदेशालय ने 11400 करोड रुपए के घोटाले की आधी रकम, लगभग 5100 करोड़ जप करने में सफलता हासिल की। ईडी ने घोटाले का पता चलने के केवल 1 सप्ताह में ही नीरव मोदी से जुड़े 35 और ठिकानों पर कार्रवाई की, जिसमें 550 करोड के मोदी के सभी खाते फ्रीज कर दिया गया।

-इसके साथ ही कल, यानी 8 मार्च 2019 को हीरा कारोबारी नीरव मोदी का 100 करोड़ का 30000 वर्ग फीट में बने समंदर किनारे बना बंगला 100 किलो विस्फोट की मदद से महज 5 सेकंड जमींदोज कर दिया गया। नीरव मोदी के इस बंगले को गिराने के आदेश 4 सितंबर को ही जारी कर दिए गए थे।

-प्रवर्तन निदेशालय देश विदेश में लगातार नीरव मोदी की प्रॉपर्टी अटैच करने की कार्रवाई कर रहा है। ईडी ने 5 देशों में नीरव मोदी के कुल 637 करोड रुपए की प्रॉपर्टी अटैच की थी। अमेरिका में 216 करोड रुपए की प्रॉपर्टी जप्त की गई है।

-इससे पहले कुछ दिन पहले ही देश में नीरव मोदी की 147.72 करोड़ की और संपत्ति प्रवर्तन निदेशालय ने जब्त की थी। मुंबई और सूरत में यह कार्रवाई हुई थी। दोनों शहरों में जो प्रॉपर्टी अटैच की गई, उसमें 8 कारें, एक प्लांट, मशीनरी ज्वेलरी, पेंटिंग, चल संपत्ति शामिल है। पिछले साल अक्टूबर में हांगकांग में 255 करोड़ की संपत्ति अटैच की गई थी। फायर स्टार इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड (FSIPL) की संपत्ति जप्त कर ली गई है।

-इसी साल जनवरी में प्रवर्तन निदेशालय ने थाईलैंड में नीरव मोदी की 13.14 करोड रुपए की संपत्ति सील कर दी गई थी।

-प्रवर्तन निदेशालय ने prevention of money laundering Court में नीरव मोदी के खिलाफ आर्थिक भगोड़ा अपराधी कानून 2018 के तहत भगोड़ा घोषित करने की अर्जी लगा रखी है।

-भारत के विदेश मंत्रालय ने नीरव मोदी और मेहुल चौकसी का पासपोर्ट निलंबित कर दिया। इंटरपोल लुकआउट नोटिस जारी कर दिया गया। घोटाले में शामिल बैंक अधिकारियों की गिरफ्तार किया गया। सीबीडीटी नीरव की कई संपत्तियों को जब्त किया है।

-जावड़ेकर ने विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार के हवाले से बताया कि नीरव मोदी के मामले में हमने प्रत्यर्पण के लिए यूके अलावा कई देशों को भगोड़ा घोषित करने के लिए अर्ज़ी भी भेजी है। इसका मतलब है कि पता था कि नीरज मोदी कहां पर है? अब यह ब्रिटिश सरकार पर रहेगा कि वह ईडी और सीबीआई की याचिका सुने और उस पर अपना फैसला दे।

-विदेश मंत्रालय के मुताबिक अगर किसी देश में प्रत्यारोपण की अपील करते हैं तो ऐसा एजेंसी के जरिए किया जा सकता है। पहले हमें ईडी से इसके लिए नोटिस जारी करवाया और फिर सीबीआई से जैसा में बताया गया है। ब्रिटिश सरकार के पास याचिकाएं विचाराधीन है। अभी हमें इसके आगे की जानकारी नहीं बताया कि जितना करीब से विजय माल्या के केस को फॉलो कर रहे थे, वैसे ही नीरव मोदी के मामले को देख रहे हैं। नीरव मोदी के प्रत्यर्पण के लिए जो भी करना पड़ेगा, वह भारत सरकार करेगी।

-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार में देश को लूटने वालों को कानून के दायरे में लाया जा रहा है और उन पर कड़ी कार्रवाई हो रही है। विजय माल्या रहम की भीख मांग रहा है, तो उसका एकमात्र कारण मोदी सरकार है। वरना सोनिया-मनमोहन की कांग्रेस सरकार में तो यह लोग चोरी करते थे, सीनाजोरी भी करते थे और उस पर से कांग्रेस की तरफ से और लुटेरों का सम्मान भी मिलता था।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।