Air strike in pakistan
Air strike in pakistan force talking to people

New delhi

भारतीय वायु सेना (airforce) के द्वारा 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट में air strike की गई थे। पाकिस्तान के बालाकोट में की गई उस एयर स्ट्राइक में कम से कम 250 आतंकियों (terrorist) के मारे जाने की संभावना है।

पाकिस्तान के द्वारा लगातार इनकार करने के बावजूद एक पाकिस्तानी सोशल एक्टिविस्ट, जो कि वाशिंगटन में रहता है ने वह वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट कर डाला है, जिससे साबित होता है कि पाकिस्तान की आर्मी इस बात को स्वीकार कर रही है कि भारतीय वायु सेना के द्वारा की गई बमबारी में कम से कम 250 लोग मारे गए थे।

यह वीडियो अपलोड किया है पाकिस्तानी एक्टिविस्ट ने-

इससे पहले तमाम मंचों पर पाकिस्तान ने एयर स्ट्राइक में किसी तरह की मौत होने से इनकार किया। पाकिस्तान लगातार कहता रहे भारत की वायु सेना ने केवल जंगलों में बम डाले, जबकि हकीकत यह है कि जैश ए मोहम्मद के आतंकी ठिकानों पर भारत की पहली स्ट्राइक में ढाई सौ के करीब आतंकवादी मारे गए हैं।

हालांकि भारत सरकार के द्वारा स्ट्राइक को लेकर किए गए खुलासे के बाद भारत में ही कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, पीडीपी, समाजवादी पार्टी समेत तमाम विपक्षी दलों ने वायु सेना की स्ट्राइक पर सवाल उठाए।

हर एक दल ने सरकार से वायु सेना की स्ट्राइक में मारे गए पाकिस्तानी आतंकवादियों की संख्या पूछी है। साथ ही यह भी कहा है क्या यह air strike हुई थी या नहीं?

इन तमाम सवालों के बीच पाकिस्तान के बलूचिस्तान में रहने वाले एक सोशल एक्टिविस्ट ने वाशिंगटन में अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है।

जिसमें पाकिस्तानी फौज के द्वारा अफ़सर स्वीकार कर रहे हैं कि भारत की योजना द्वारा की गई कम से कम 250 लोग मारे गए।

अब पाकिस्तान का झूठ दुनिया के सामने है, और भारत में जिन पार्टियों के द्वारा भारत की वायु सेना पर सवाल उठाए गए हैं, उनको भी सबूत मिल चुके हैं। ऐसी स्थिति में भारत में एक बार फिर से भारतीय जनता पार्टी आक्रामक रवैया अपना सकती है।

चुनाव प्रचार चरम पर है और आने वाले 2 महीने भारत में लोकसभा चुनाव संपन्न होने हैं। ऐसे वक्त में पाकिस्तान की पोल खोलने से न केवल विपक्षी पार्टियों को नुकसान होगा, बल्कि भाजपा को और खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बड़े पैमाने पर फायदा मिलने की संभावना है।

गौरतलब है कि 14 फरवरी को पाकिस्तान के जैश ए मोहम्मद के एक आतंकवादी ने आरडीएक्स से भरी कार सीआरपीएफ के काफिले में घुसा दी थी, जिसमें सीआरपीएफ के 44 जवान शहीद हुए थे।

उसके बाद भारत सरकार के द्वारा सेना को खुली छूट गई गई और केवल 12 दिन में ही भारत की वायु सेना ने पाकिस्तान में 80 किलोमीटर अंदर घुसकर स्ट्राइक की, जिसमें इस आतंकवादी संगठन ढाई सौ ज्यादा आतंकवादी मारे गए।