ips pankaj choudhary
ips pankaj choudhary

जयपुर।
अभी देश में लोकसभा चुनाव 2019 का आखिरी चरण का मतदान होना बाकि है, लेकिन राजस्थान में एक सीट ऐसी है, जहां पर अगले छह माह में दुबारा मतदान होने की नौबत आ सकती है।

पूर्व आईपीएस और बाड़मेर से बसपा के प्रत्याशी रहे पंकज चौधरी ने दावा किया है कि यहां पर उनका नामांकन कांग्रेस—भाजपा के दबाव में निर्वाचन विभाग ने खारिज किया है, जो नियमानुसार सही नहीं है।

इसको लेकर उन्होंने कोर्ट की शरण ली है, लेकिन अभी चुनाव प्रक्रिया चल रही है, इसलिए सुनवाई नहीं होगी, लेकिन चुनाव मतगणना के बाद सुनवाई होगी और बाड़मेर का चुनाव रद्द होगा। यहां देखिए IPS पंकज चौधरी का बेबाक और पूरा साक्षात्कार—

इतना ही नहीं पंकज चौधरी ने दावा किया है कि वर्तमान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व सीएम वसुंधरा राजे एक ही थाली के चट्टे—बट्टे हैं, जो एक दूसरे के पाप छिपाने का काम करते हैं।

पूर्व आईपीएस चौधरी को जिस आधार पर बर्खास्त किया गया है, उसको भी चुनौती दी गई है। उनका कहना है​ इसको लेकर केट जल्द फैलसा लेगा और वो फिर से सेवा में बहाल होंगे।

‘नेशनल दुनिया’ के साथ खास बातचीत में आईपीएस चौधरी ने कहा कि अशोक गहलोत का जादू खत्म हो चुका है, उनको उत्तराखंड़ में जाकर सन्यास ले लेना चाहिए।

उन्होंने दावा किया कि वसुंधरा राजे की राजस्थान में दुकान अब बंद हो चुकी है और जल्द ही 23 मई के बाद अशोक गहलोत की भी बंद हो जाएगी। चौधरी ने बेबाकी से बात करते हुए दोनों नेताओं पर कई गंभीर आरोप भी लगाए हैं।

इतना ही नहीं चौधरी ने राज्य के डीजीपी कपिल गर्ग और उनके अंतर्गत कार्यरत कई आईपीएस अधिकारियों को भी भ्रष्ट, कामचोर और सरकार की जी हुजुरी करने वाले बताए हैं।

वसुंधरा—गहलोत को आड़े हाथों लेते हुए चौधरी ने कहा है कि दोनों नेता एक दूसरे के खिलाफ कभी मजबूत कंडीडेट नहीं उतारते, ताकि वो आराम से जीत सकें। चौधरी ने झालावाड़ का ताजा उदाहरण देते हुए वसुंधरा राजे के बेटे और यहां से भाजपा प्रत्याशी दुष्यंत सिंह को अयोग्य उम्मीदवार करार दिया है।

चौधरी के अनुसार बाड़मेर में दुबारा चुनाव होगा और जोधपुर में जहां से उनकी पत्नी मुकुल चौधरी बसपा की प्रत्याशी थीं, वहां पर गहलोत के बेटे वैभव गहलोत की करारी हार होगी।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।