Nationaldunia

जयपुर।

राजस्थान सरकार द्वारा 10 हजार मैट्रिक टन यूरिया की प्रतिदिन आपूर्ति करने का दावा फेल होता नजर आ रहा है।

प्रदेश में यूरिया खाद का संकट कम होने का नाम नहीं ले रहा है। अब एक सप्ताह बार फिर से पुलिस प्रशासन की निगरानी में यूरिया खाद को बेचा जाएगा।

जबकि पिछले हप्ते ही कृषि मंत्री लाल चंद कटारिया ने प्रदेश में 7.64 लाख मैट्रिक टन यूरिया की जरुरत के मुकाबले 7.53 लाख मैट्रिक टन की आपूर्ति होने का दावा किया था।

उन्होंने यह भी कहा था कि प्रतिदिन 10 हजार मैट्रिक टन यूरिया की आपूर्ति की जा रही है।

इससे उलट एक बार फिर से राज्य में यूरिया खाद की किल्लत के चलते किसानों में कोहराम बच गया है।

बारां, बूंदी और कोटा में कई जगह आज से फिर पुलिस सुरक्षा में यूरिया खाद को बेचने का निर्णय लिया गया है।

इधर, कृषि मंत्री कटारिया ने आज फिर दावा किया है कि यूरिया की सप्लाई प्रोपर करने के लिए काम किया जा रहा है, जल्द ही सारी समस्या का समाधान कर लिया जाएगा।