जयपुर।

प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष और राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के द्वारा 4 साल पहले ली गई शपथ अब पूरी हो चुकी है, लेकिन कांग्रेस के ही एक नेता ने ऐसी ही शपथ और ली है।

राजधानी जयपुर के एक विधायक ऐसा भी है जिसने सरकारी कालेज नहीं खुलने तक साफा नहीं पहनने की शपथ ली है।

चाकसू के नव निर्वाचित कांग्रेस विधायक वेद प्रकाश सोलंकी ने कहा है कि जब तक यहां पर सरकारी कॉलेज नहीं खुलेगा, तब तक साफा नहीं पहनेंगे।

चाकसू के कांग्रेस विधायक वेदप्रकाश सोलंकी ने यहां पर सरकारी कॉलेज नहीं खुलने तक के लिए साफा नहीं पहने का संकल्प लिया है। यह जानकारी विधायक सोलंकी ने मिडिया से रूबरू होते हुए बताई।

उन्होंने कहा कि चुनाव जीतने से पहले अपनी जनसभा में जनता से वादा किया था कि उनकी प्रमुख प्राथमिकता सरकारी कॉलेज, औद्योगिक क्षेत्र, सेटेलाइट अस्पताल का विकास, चाकसू को स्मार्ट सिटी बनाने की रहेगी।

इतना ही नहीं, अपने कॉलेज खोलने के वादे को पूरा करने के लिए उन्होंने सभी तरह के समारोह में साफा नहीं पहनने का संकल्प लिया है ।

गौरतलब है कि 2008 में सोलंकी ने चाकसू विधानसभा सभा का चुनाव लड़ा था, लेकिन उस वक्त वह क्षेत्र के लोगो में नए चेहरे होने की वजह से कुछ मतों से ही पराजित हो गए थे।

हारने के पश्चात में भी सोलंकी ने चाकसू में बीसलपुर पानी लाना, लो फ्लोर बसे लगवाना, कोटखावदा में उपतहसील को तहसील में व पुलिस चौकी को थाने में क्रमोनन्त करवाने सहित कई विकास के कार्य करवाये थे। जिस वजह से इस बार इनकी विजय आसान हो गयी।

राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के पदचिन्हों पर चलते हुए चाकसू से नवनिर्वाचित विधायक वेदप्रकाश सोलंकी ने क्षेत्र में सरकारी कालेज खुलने तक साफा नहीं बांधने की शपथ ली है।

सोलंकी ने प्रण लिया है कि चाकसू में सरकारी कालेज खुले और इसके लिए वे प्राथमिकता से प्रयासरत है। जब तक सरकारी कालेज नहीं खुलेगा, मैं किसी भी समारोह में साफा नहीं पहनूंगा।