satish punia bjp president
satish punia bjp president

जयपुर।
भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने कहा है कि प्रदेश की जनता कांग्रेस सरकार से पूरी तरह से त्रस्त है और इसका माकूल जवाब आने वाले निकाय के चुनाव में देगी। उन्होंने कहा कि भाजपा कल और परसों में सभी जगह के पार्षद उम्मीदवारों के नामों को लेकर मंथन करेगी और उसके बाद जल्द ही उनके नामों का ऐलान भी किया जायेगा।

अधिक खबरों और वीडियो के लिये आप हमारे यू ट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब करें।

डॉ. पूनिया ने भाजपा कार्यालय में पत्रकारों से बात करते हुये कहा कि कांग्रेस सरकार बुरी तरह से उलझन में है और इसके चलते चार बार अपना स्टैंड बदल चुकी है। उन्होंने कहा कि ऐसा पहली बार हो रहा है कि सभापतियों और अध्यक्षों का चुनाव करने के लिये एक सप्ताह बाद की कवायद रखी गई है।

भाजपा अध्यक्ष ने आरोप लगाते हुये कहा कि कांग्रेस यह एक सप्ताह का समय इसलिये ले रही है, ताकि इस दौरान पार्षदों की बाड़ेबंदी की जा सके, उनकी खरीद—फरोख्त की जा सके और कैसे भी अपने सभापति और अध्यक्ष बना सकें।

डॉ. पूनिया ने कहा कि अभी राजस्थान की निकायों सभापति—अध्यक्षों में से दोनों के पास 21—21 सीटों पर कब्जा है। उन्होंने कहा कि यह एक धारणा है कि जिसकी सरकार होती है, उसका लाभ उसी दल को मिलता है, लेकिन कांग्रेस सरकार से परेशान जनता उनको अच्छे से जवाब देने जा रही है।

उन्होंने कहा कि भाजपा ने निकाय प्रमुख, जिलाध्यक्षों समेत कमेटियां बना चुकी है, जो समितियां स्थानीय जिला स्तर पर भाजपा के सभी नेताओं के साथ इच्छुक उम्मीदवारों के नामों की स्क्रूटनी करने के बाद कल और परसों भाजपा मुख्यालय में नाम तय किये जायेंगे।

रालोपा के साथ गठबंधन को लेकर पूनिया ने एक बार फिर स्पष्ट किया है कि भाजपा खुद पूरी तरह से सक्षम है और अकेले दम पर चुनाव लड़ने जा रही है।

उन्होंने इसके साथ ही कहा कि कहीं पर भाजपा के स्थानीय कार्यकर्ताओं को लगेगा कि साथ लेना चाहिये, वहां पर गठबंधन के विकल्प खुले हैं। उन्होंने कहा कि खींवसर में हनुमान बेनीवाल तीन बार से काबिज थे, इसलिये यह सीट उनके अधिकार ​की बनती थी, जिसके कारण गठबंधन किया था।