CPI-Maoist terrorist organization
CPI-Maoist terrorist organization

नई दिल्ली।
आतंकवादी संगठनों के मामले में अब तक सीरिया, तुर्की, अफगानिस्तान, इराक, इरान और अफ्रीकी देशों के आतंकी संगठनों को ही टॉप में माना जाता था, किंतु अमेरिका द्वारा जारी नई रिपोर्ट में बताया गया है कि विश्व के टॉप टेन आतंकी संगठनों में भारत की एक राजनीतिक पार्टी का भी नाम आता है।

अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने अपनी ताजा रिपोर्ट में कहा है कि भारत की कम्यूनिस्ट पार्टी—माओवादी पूरी दुनिया के सबसे खतरनाक आतंकवादी संगठनों में छठे नंबर पर है। इस रिपोर्ट में खास बात यह भी बताई है कि दुनिया के आतंक प्रभावित देशों में भारत चौथे नंबर पर है।

दुनिया में भारत ऐसा देश है, जहां पर पिछले साल गठित सभी घटनाओं में से 57 फीसदी आतंकी घटनाऐं केवल जम्मू—कश्मीर में घटित हुई हैं। शुक्रवार को रिलीज की गई ‘आतंकवाद—2018’ की ताजा रिपोर्ट के अनुसार भारत की कम्यूनिस्ट पार्टी, जो कि माओवादी गुट है, इसके द्वारा पिछले साल 177 आतंकी घटनाओं को अंजाम दिया गया, जिसमें 311 लोगों की जान चली गई।

इधर, भारत के केंद्रीय गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार 2018 के आंकड़े बताते हैं कि 833 हिंसक घटनाओं में कुल 240 लोगों की जान चली गई थी। हालांकि, अमेरिका और भारत की रिपोर्ट में माओवादी हमलों में मरे लोगों की संख्या भिन्न है। जिसको लेकर अभी तक सरकारी की तरफ से कोई टिप्पणी नहीं की गई है।

दरअसल, अमेरिकी विदेश विभाग दुनिया के सभी स्तर पर घटित होने वाली आतंकवादी घटनाओं, उनके रुझानों और सरकारों की नीतियों का बारीकी से अध्ययन करता है। इस अध्ययन के बाद प्रतिवर्ष अपनी रिपोर्ट सार्वजनिक करता है।

2018 की घटनाओं के आंकड़ों के साथ जारी की गई इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि भारत की खूफिया एजेंसियों की कमजोरियों ने केंद्र सरकार और राज्य सरकारों को बुरी तरह से प्रभावित किया है।

इस रिपोर्ट के अनुसार दुनिया का सबसे खतरनाक आतंकी संगठन अफगानिस्तान के तालिबान को माना है। इसके बाद अफगान के ही आईएस और अल शबाब के अलावा अफ्रीका के बोको हरम, फिलीपिंस की सीपीआई और छठे नंबर पर भारत की कम्यूनिस्ट पार्टी को सबसे खतरनाक आतंकी संगठन बताया गया है।