नई दिल्ली।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में केंद्रीय सुरक्षा पुलिस बल (CRPF) के काफिले पर IED से आत्मघाती आतंकवादी हमला हुआ है। इस हमले में सीआरपीएफ के 37 जवान शहीद हो गए और 40 से ज्यादा घायल हुए हैं।

जानकारी के अनुसार आज करीब 3 बजे यह हमला हुआ। जिस वक्त यह भीषण हमला हुआ, तब सीआरपीएफ के ट्रकों का काफिला सड़क से गुजर रहा था। इसी काफिले में एक गाड़ी से टक्कर मारी गई, जिसमें करीब 350 किलो बारूद भरी थी।

CRPF के काफ़िले पर IED से हमला, 37 जवान शहीद, 40 से ज्यादा जख्मी 1

बीते लम्बे समय से इस तरह का यह पहला बड़ा हमला है, जिसमें इतने सैनिक शाहिद हुए हैं। सेना ने आतंकवादियों के खिलाफ सर्च अभियान तेज़ कर दिया है। पीएम मोदी ने हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है, जबकि गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू के डीजीपी से बात की है।

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 37 जवान शहीद हुए हैं, जबकि सूत्रों का दावा है कि 37 जवान शहीद हुए हैं। हमले में घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

जानकारी के मुताबिक यह हमला इतना भीषण था कि सेना के एक ट्रक के परखच्चे उड़ गए। उसके बाद दहशतगर्दों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। धमाके के साथ ट्रकों के टुकड़े करीब 200 मीटर तक उछल कर चले गए।

हमले के वक्त सेना के 78 से ज्यादा ट्रकों में करीब 2547 सैनिक मौजूद थे, जो छुट्टियां मनाकर वापस ड्यूटी पर जा रहे थे। मोदी ने ट्विटर पर लिखा है “शहीद जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। शहीद सैनिकों के परिवारों के साथ पूरा देश खड़ा है।”