32 C
Jaipur
मंगलवार, अक्टूबर 20, 2020

शोधकतार्ओं का कमाल: पेट के घावों का इलाज अब होगा इस तरीके से

- Advertisement -
- Advertisement -

बीजिंग, 2 सितम्बर (आईएएनएस)। चीनी वैज्ञानिकों ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में एक बड़ी सफलता हासिल की है। दावा है कि चीन के शोधकतार्ओं ने एक माइक्रोरोबोट का इस्तेमाल कर गैस्ट्रिक घावों के इलाज का एक नया तरीका इजाद किया है। यह सब बायोप्रिंटिंग के जरिए किया गया है। बायोफेब्रिकेशन पत्रिका में प्रकाशित एक शोध में इसका खुलासा हुआ है।
डॉक्टरों के मुताबिक, पाचन तंत्र में गैस्ट्रिक दीवार की चोट या घाव एक आम समस्या है, जिसके लिए अक्सर ड्रग थेरेपी या इनवेसिव सर्जरी की आवश्यकता होती है। माना जा रहा है कि अब मरीजों को इस तरह की झंझट से निजात मिल सकेगी।

इस नए शोध के अनुसार, अब बायोप्रिंटिंग के माध्यम से टिश्यूज यानी ऊतकों की मरम्मत के लिए सीधे घाव वाली जगह पर नई कोशिकाओं को पहुंचाया जा सकेगा। यह पेट की समस्याओं से जूझ रहे लाखों लोगों के लिए वरदान साबित हो सकता है।

चीन की राजधानी बीजिंग स्थित छिंगुहा यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने इन सिटी इन विवो बायोप्रिंटरिंग की एक नई अवधारणा को जन्म दिया है। इसके साथ ही उन्होंने एक माइक्रो-रोबोट तैयार किया है, जो ऊतकों की मरम्मत के लिए एंडोस्कोप के माध्यम से शरीर में प्रवेश करता है।

बताया जाता है कि इन वैज्ञानिकों ने इंसानी पेट के जैविक मॉडल और प्रविष्टि और बायोप्रिंटिंग ऑपरेशन की नकल करने के लिए एंडोस्कोप के साथ माइक्रोरोबोट और डिलीवरी सिस्टम का परीक्षण किया। उन्होंने सेल कल्चर डिश में एक बायोप्रिंटर परीक्षण किया, जिसका मकसद यह पता लगाना था कि यह तरीका कोशिकाओं और घावों को ठीक करने में कितना प्रभावी है।

परीक्षणों से यह पता चला कि मुद्रित कोशिकाएं उच्च व्यवहार्यता और स्थिर प्रसार पर बनी हुई हैं, जो मुद्रित ऊतक में कोशिकाओं के अच्छे जैविक कार्य का भी संकेत देती हैं।

इस शोध में शामिल चीनी शोधकर्ता श्वी थाव के मुताबिक, रिसर्च ने गैस्ट्रिक दीवार की चोटों के इलाज के लिए इस अवधारणा की व्यवहार्यता को सत्यापित किया है और बिना किसी बड़ी सर्जरी के शरीर के अंदर विभिन्न प्रकार के घावों के उपचार के लिए व्यापक संभावना पैदा की है।

हालांकि उन्होंने कहा कि इस बाबत अभी और कुछ काम करने की आवश्यकता है, जिसमें बायोप्रिंटिंग प्लेटफॉर्म के आकार को कम करना और बायोइंक का विकास करना शामिल है। उन्होंने यह भी कहा कि सिस्टम के विकास में बायोलॉजिकल मैन्यूफैक्च रिंग, थ्री-डी प्रिंटिंग और मैकेनिक्स आदि प्रमुख हैं।

कहा जा सकता है कि चीनी वैज्ञानिकों ने दुनिया में पेट की बीमारियों से परेशान तमाम मरीजों के लिए उम्मीद की किरण जगा दी है। अगर ऐसा संभव हुआ तो बिना ऑपरेशन के ही पेट के अंदर की तमाम रोगों का इलाज हो सकेगा।

(लेखक — अनिल पांडेय)

(साभार-चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

— आईएएनएस

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
शोधकतार्ओं का कमाल: पेट के घावों का इलाज अब होगा इस तरीके से 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

श्रीकांत ने धोनी से पूछा, आपने जाधव-चावला में क्या जुनून देखा

नई दिल्ली, 20 अक्टूबर (आईएएनएस)। पूर्व भारतीय क्रिकेटर के. श्रीकांत ने राजस्थान रॉयल्स के हाथों चेन्नई सुपर किंग्स की हार के बाद कप्तान महेंद्र...
- Advertisement -

लंका प्रीमियर लीग में खेलेंगे मनप्रीत और बिस्ला

कोलंबो, 20 अक्टूबर (आईएएनएस)। मनप्रीत गोनी और मनविंदर बिस्ला अगले महीने से शुरू होने जा रही लंका प्रीमियर लीग (एलपीएल) के पहले संस्करण का...

फेसबुक ने निकाला वॉच प्लेटफॉर्म में वीडियो ढूंढ़ने का नया तरीका

सैन फ्रांसिस्को, 20 अक्टूबर (आईएएनएस)। फेसबुक ने अपने वीडियो वाले प्लेटफॉर्म में कुछ बेहद ही रोमांचक फीचर्स पेश किए हैं। इस मंच पर प्रति...

भारत के सबसे बड़े कैंसर संस्थान में योगी करेंगे ओपीडी का अनावरण

लखनऊ, 20 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को राज्य की राजधानी में सुपर स्पेशलिटी कैंसर इंस्टीट्यूट (एसएससीआई) में ओपीडी सेवा...

Related news

भाजपा के संगठन ने दिखाई ताकत, 30% में सिमट गए विधायक

- कई वर्षों बाद भारतीय जनता पार्टी संगठन के द्वारा इतने बड़े पैमाने पर टिकट बांटे गए हैं। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद...

मिशन शक्ति अभियान को लेकर नोएडा पुलिस कर रही काम, जागरूकता वैन को दिखाई हरी झंडी

नोएडा, 18 अक्टूबर (आईएएनएस)। मिशन शक्ति अभियान को लेकर नोएडा पुलिस भी काम कर रही है। रविवार को नोएडा के कमिश्नर ऑफिस में मिशन...

उप्र में विधवा पेंशन का लाभ उठा रही विवाहिता और मृत महिलाएं

बदायूं (उत्तर प्रदेश), 16 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में विधवाओं के लिए योजना में धोखाधड़ी के 106 से अधिक मामले सामने...

Nagar nigam election: भाजपा-कांग्रेस की आज आएगी पहली सूची

जयपुर। राजधानी जयपुर, जोधपुर और कोटा के 6 नगर निगम चुनाव की भाजपा-कांग्रेस आज अपनी-अपनी पहली सूची जारी करेगी। जानकारी में आया...
- Advertisement -