36 C
Jaipur
सोमवार, सितम्बर 21, 2020

माइक्रोसॉफ्ट बिंग के आंकड़ों में महामारी के दौरान लोगों की बदलती जरूरतों का खुलासा

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली, 22 अगस्त (आईएएनएस)। माइक्रोसॉफ्ट के शोधकर्ताओं ने खुलासा किया है कि किस कदर महामारी के दौरान लोगों की ख्वाहिशें बदली हैं। एक ऐसे वक्त में बुनियादी जरूरतों पर ज्यादा जोर देखा गया है।
वेंचरबीट की रिपोर्ट के मुताबिक, माइक्रोसॉफ्ट सर्च इंजन बिंग के आंकड़ों का इस्तेमाल करते हुए टीम ने महामारी के दौरान लोगों की शारीरिक, सामाजिक-आर्थिक और मनोवैज्ञानिक आवश्यकताओं में बदलाव को चिह्न्ति करने के लिए एक रूपरेखा तैयार की।

अमेरिका में करीब-करीब 36,000 जिप कोड के दरमियान इस रूपरेखा को 3500 करोड़ बिंग वेब सर्च पर लागू किया गया जिसके बाद शोधकतार्ओं को इंसान की बदलती आदतों के बारे में पता लगा।

इस रूपरेखा के तहत इंजन पर सर्च की गई चीजों को कुछ श्रेणियों में वगीर्कृत किया गया जैसे कि वास्तविक, संज्ञानात्मक, सामाजिक/भावनात्मक, सुरक्षात्मक और शारीरिक आवश्यकताएं।

करीब 9.1 प्रतिशत यानि कि 320 सर्च सही में जरूरत की चीजों के बारे में की गई।

शोधकतार्ओं ने पाया कि डिग्री, जॉब सर्च, जॉब और हाउसिंग साइट्स के बारे में खोज में 34 फीसदी तक की गिरावट आई है और यह अब भी बरकरार है।

रिसर्च के मुताबिक, महामारी के शुरूआती चार हफ्तों में शारीरिक और सुरक्षा आवश्यकताओं की खोज में काफी इजाफा देखा गया। टॉयलेट पेपर की खरीददारी में 127 गुना तक की वृद्धि देखी गई, साथ ही कर्ज माफ को लेकर यूजर्स द्वारा किए गए खोज में भी आधार रेखा से 287 गुना तक की बढ़ोत्तरी देखी गई और ऐसा कम से कम जुलाई के महीने तक तो बरकरार रहा।

इस रूपरेखा का उपयोग इस बात का निर्धारण करने के लिए भी किया जा सकता है कि कोई समुदाय किस हद तक सामाजिक और आर्थिक संकट झेल सकता है और साथ ही कमजोर वर्गों पर नीतियों के प्रभाव में असमानताओं की जांच करने के लिए भी इसका उपयोग किया जा सकता है।

–आईएएनएस

एएसएन/जेएनएस

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
माइक्रोसॉफ्ट बिंग के आंकड़ों में महामारी के दौरान लोगों की बदलती जरूरतों का खुलासा 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

उपभोक्ताओं की इंटीग्रेटेड सुरक्षा से जुड़ी नई तकनीक लेकर आया मैकफे

मुम्बई, 21 सितम्बर (आईएएनएस)। मैकफे ने सोमवार को अपने लेटेस्ट कंज्यूमर सिक्योरिटी पोर्टफोलियो की घोषणा की, जिसमें बेहतर यूजर अनुभव एवं नई विशेषताओं के...
- Advertisement -

कम नमूनों की जांच के बाद तेलंगाना में कोरोना के मामलोंे में गिरावट

हैदराबाद, 21 सितम्बर (आईएएनएस)। तेलंगाना में कोरोनावायरस के मामलों में कमी आई है। राज्य के स्वास्थ्य अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि पिछले...

आईएसएल : बोस्निया के सेंट्रल डिफेंडर सिपोविच पहुंचे चेन्नइयन एफसी

चेन्नई, 21 सितंबर (आईएएनएस)। इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के क्लब चेन्नइयन एफसी ने बोस्नीया हर्जेगेविना के सेंटर बैक इनेस सिपोविच के साथ 2020-21 सीजन...

बुरी पटकथा पर काम कर आगे नहीं बढ़ा जा सकता : सचिन खेडेकर

मुंबई, 21 सितंबर (आईएएनएस)। अभिनेता सचिन खेडेकर का मानना है कि अभिनेता के लिए अपने अभिनय कौशल का बेहतरीन प्रदर्शन करने के लिए एक...

Related news

केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार खोले जाएंगे स्कूल- बेसिक शिक्षा मंत्री

इटावा, 18 सितंबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ़ सतीश द्विवेदी ने कोरोनावायरस के कारण बंद चल रहे स्कूल खोले जाने की...

अलवर में 5-6 जनों ने बलात्कार किया, फिर मामी के साथ भांजे को शारिरीक सम्बन्ध बनवा वीडियो वायरल किया

अलवर। लोकसभा चुनाव के दरमियान अलवर में थानागाजी क्षेत्र में एक विवाहित लड़की के साथ गैंगरेप करने और उसका वीडियो वायरल करने...

भारत में 18 से 24 वर्ष की 37% महिलाएं रखती हैं लंबे समय तक सैक्स सम्बंध

-भारत में 19% महिलाओं को स्मार्टफोन पर रहती हैं पार्टनर की तलाश, देश की 62% महिलाएं कर रहीं ये काम।

पिंकी चौधरी भागने वाली लड़कियों की रोल मॉडल बनी, चार लड़कियों ने ली प्रेरणा और प्रेमियों के साथ भाग गईं

बाड़मेर/टोंक। पिछले महीने बाड़मेर के समदड़ी पंचायत समिति की प्रधान पिंकी चौधरी के घर से भागने और आपने प्रेमी अशोक चौधरी के...
- Advertisement -