16 C
Jaipur
रविवार, नवम्बर 1, 2020

अंतरिक्ष में मलबे के 2 बड़े टुकड़े टकराने से बचे

- Advertisement -
- Advertisement -

न्यूयॉर्क, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। अंतरिक्ष क्षेत्र में एक बड़ी राहत की खबर सामने आई है। अंतरिक्ष में मलबे के तौर पर बेकार पड़ी रूसी सैटेलाइट और निष्क्रिय चीनी रॉकेट के बीच संभावित टक्कर का खतरा टल गया है।
हालांकि कैलिफोर्निया स्थित अंतरिक्ष मलबे को ट्रैक करने वाली कंपनी लियोलैब्स ने इन दो ऑब्जेक्ट्स की टक्कर होने की 10 प्रतिशत से अधिक संभावना जताई थी।

लियोलैब्स ने कहा कि रूसी सैटेलाइट और निष्क्रिय चीनी रॉकेट का संयुक्त द्रव्यमान लगभग 2,800 किलोग्राम था।

- Advertisement -satish poonia

स्पेस डॉट कॉम ने शुक्रवार को बताया कि अगर दोनों ऑब्जेक्ट्स की आपस में टक्कर हो जाती तो मलबे का एक विशाल बादल पैदा हो गया होता, क्योंकि वे 52,950 किलोमीटर प्रति घंटे की बहुत तेज गति के साथ एक-दूसरे की तरफ बढ़ रहे थे।

शुक्रवार को 1256 जीएमटी पर दोनों ऑब्जेक्ट्स एक-दूसरे के काफी करीब थे। गनीमत रही कि यह आपस में नहीं टकराए।

दोनों ऑब्जेक्ट्स का नाम कॉस्मोस 2004 और सीजेड-4सी आर/बी नाम दिया गया था।

लियोलैब्स ने अपने एक ट्वीट में जानकारी दी है कि उनके हालिया डेटा यह पुष्टि करते हैं कि कॉस्मोस 2004 अभी भी बरकरार है। कंपनी ने बताया कि वह आगे के जोखिम पर अगले सप्ताह जानकारी साझा करेगी।

यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी की ओर से अंतरिक्ष मलबे पर जारी की गई एक रिपोर्ट का अनुमान है कि वर्तमान में कक्षा में एक 10 सेंटीमीटर से बड़ी (सॉफ्टबॉल के आकार से बड़ी) 34,000 मलबे की वस्तुएं हैं।

दुनिया का पहला कृत्रिम उपग्रह स्पुतनिक-1 1957 में पृथ्वी की कक्षा में लॉन्च किया गया था। इसके बाद से विभिन्न देशों की ओर से हजारों अन्य उपग्रह भी भेजे जा चुके हैं।

दुनियाभर की अंतरिक्ष एजेंसियां ऐसे मलबों के टुकड़ों पर नजर भी रखती हैं। फिर भी इनकी बढ़ती तादाद को देखते हुए इन्हें हमेशा ट्रैक करना एक गंभीर समस्या बनता जा रहा है। यह यह बड़े मलबे के टुकड़े तेज गति से आपस में टकराए तो अंतरिक्ष में स्थापित की गई सैटेलाइट को भारी क्षति पहुंच सकती है।

–आईएएनएस

एकेके/एसजीके

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
अंतरिक्ष में मलबे के 2 बड़े टुकड़े टकराने से बचे 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

दिल्ली : अमोनिया की मात्रा घटने पर जलापूर्ति बहाल

नई दिल्ली, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा ने पानी में अमोनिया का स्तर दोबारा बढ़ने से जलापूर्ति प्रभावित होने...
- Advertisement -

चीनी विज्ञान अकादमी की वार्षिक नवाचार प्रदर्शनी का उद्घाटन

बीजिंग, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। 31 अक्तूबर की सुबह नवाचार से विकास को बढ़ावा दें, विज्ञान व तकनीक से भविष्य का नेतृत्व करें --...

नोएडा में सरदार पटेल जयंती पर दिलाया गया राष्ट्रीय एकता, अखंडता का संकल्प

गौतमबुद्धनगर (नोएडा), 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। लौहपुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती यहां शनिवार को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में कलेक्ट्रेट के सभागार में...

स्वास्थ्य सेवा बढ़ाकर गरीबी उन्मूलन को गति देता चीन

बीजिंग, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। चीन ने आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक क्षेत्रों में काफी प्रगति की है क्योंकि साल 1978 में उसने सुधार और...

Related news

समदड़ी प्रधान Pinky choudhary रहना चाहती हैं अपने पुराने पति के साथ, पर यह है बड़ा संकट

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति के निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी अपने कथित प्रेमी और वर्तमान पति अशोक चौधरी से 2 महीने...

पिंकी चौधरी 2 महीने पहले धोखा देकर प्रेमी के साथ भागी, अब फिर चाहती है पति का प्यार

बाड़मेर। पंचायत समिति समदड़ी की निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी 2 महीने पहले पति को धोखा देकर प्रेमी अशोक चौधरी के साथ भाग...

समदड़ी प्रधान पिंकी चौधरी को प्रेमी ने बनाया बंधक, फ़ोटो, वीडियो किये वायरल

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति से निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी ने अशोक चौधरी नामक एक व्यक्ति, जिसको कथित तौर पर पिंकी...

Pinky Choudhary पहले प्रेमी के साथ भागी, अब अपने पति के साथ जाना चाहती है

बाड़मेर। जिले की समदड़ी पंचायत समिति (Samdadi) प्रधान पिंकी चौधरी (Pinky Choudhary) अपने प्रेमी के साथ भाग गई। उसके साथ शादी कर...
- Advertisement -