muhana mandi
muhana mandi

-जेडीए में दर्जनों शिकायत, थाने में शिकायतों का अंबार, टोल फ्री नंबर पर भी दी शिकायतें, लेकिन नहीं हुई कार्रवाई

जयपुर। चुनाव के वक्त आचार संहिता की आड़ में अवैध निर्माण जयपुर में आम है, लेकिन सरकार के पास प्रशासन होने के बावजूद यदि अवैध निर्माण हो, तो सवाल उठने लाजमी हैं। ऐसा ही मामला सामने आया है मुहाना मंड़ी के गेट नंबर दो के सामने जयपुर विकास प्राधिकरण द्वारा बसाई गई स्वर्ण विहार का।

यहां पर बीते लंबे समय यहां पर अवैध निर्माण हो रहे हैं। जिनकी स्थानीय गांववासियों द्वारा जेडीए में तमाम शिकायतें की गईं, लेकिन एक के खिलाफ भी कार्रवाई नहीं हुई है। इस दौरान यहां पर न केवल बहुमंजिला अवैध निर्माण हुए हैं, बल्कि थाने की नाक के नीचे ही अवैध बोरिंग भी खुदवाए गए हैं।

शिकायत करने वाले बार-बार जेडीए अधिकारियों के चक्कर काट रहे हैं, लेकिन आजतक कोई एक्शन नहीं हुआ है। गांव वालों के द्वारा इसकी शिकायत थाने के अलावा कमिशनर, डीजीपी और जेडीसी तक किए जाने का दावा किया गया है।

एक से अधिक मंजिल नहीं बनाई जा सकती

जानकारी के अनुसार स्वर्ण विहार योजना जेडीए के द्वारा बसाई गई कॉलोनी है। यहां पर बीते लंबे समय पर अवैध निर्माणों की बाढ़ आई हुई है। स्थानीय गांव वासियों ने इसकी शिकायतें जेडीए से लेकर स्थानीय मुहाना थाने तक में की गई, लेकिन आज तक अवैध काम करने वालों का बाल भी बांका नहीं हुआ।

गांव के लोगों ने इसकी शिकायत सोमवार को जेडीए में एसीपी रघुवीर सैनी को की गई। गांव वालों ने बताया कि एसीपी सैनी ने उल्टा उनको ही रविवार को शिकायत नहीं करने को दोष देकर झाड़ दिया। आज सुबह मौके पर स्थानीय थाना पुलिस पहुंची, लेकिन काम नहीं रुकवाया गया।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।