नई दिल्ली।

भारतीय सेना के द्वारा 29 सितंबर 2016 को भारत पाकिस्तान की नियंत्रण रेखा को पार करके आतंकियों के कैंपों को तहस नहस करने वाली भारतीय सेना पर अब तक केवल विपक्षी ही सवाल उठा रहा था, लेकिन पहली बार उत्तरी कमान के प्रमुख रहे लेफ्टिनेंट जनरल वीएस हुड्डा ने भारत सरकार पर इसका प्रचार ज्यादा करने का आरोप लगाया है।

सर्जिकल स्ट्राइक पर हुआ यह विवाद, मोदी ने यह कहा- 1

जनरल बीएस हुड्डा ने कहा है कि सर्जिकल स्ट्राइक एक गुप्त प्रक्रिया है। मिलिट्री लिटरेचर फेस्टिवल में शुक्रवार को एक पैनल में चर्चा के दौरान उन्होंने कहा कि ये गोपनीय तरीके से अंजाम दी गई है, इसलिए इसका इतना प्रचार नहीं किया जाना चाहिए था। उसका बहुत अधिक प्रचार-प्रसार किया जा रहा है।

-विज्ञापन -

हुड्डा के इस बयान के बाद विपक्षी पार्टी कांग्रेस के राहुल गांधी ने ट्विटर पर ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिस्टर 36 कहकर तंज कसा है। राहुल गांधी अब तक प्रधानमंत्री को 56 इंच वाले पीएम बोला करते थे।

कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से बात करते हुए जनरल हुड्डा ने कहा कि पीओके के में घुसकर आतंकियों को मारना, सर्जिकल स्ट्राइक करना सेना की शुरुआती सफलता थी। जिससे स्वाभाविक रूप से उत्साह होना चाहिए, लेकिन भारतीय सेना की इस सफलतापूर्वक की गई कार्रवाई का सरकार ने जरूरत से ज्यादा प्रचार किया है जो अनुचित है।

सर्जिकल स्ट्राइक पर हुआ यह विवाद, मोदी ने यह कहा- 2

इस मामले में सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने यह विचार लेफ्टिनेंट जनरल बीएस हुड्डा के निजी बताते हुए किसी तरह की टिप्पणी से इनकार किया है।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।