17.7 C
Jaipur
गुरूवार, अक्टूबर 29, 2020

दिल्ली सरकार से नहीं मिली पुरस्कार राशि: पहलवान सिमरन के पिता

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली, 3 सितम्बर (आईएएनएस)। यूथ ओलंपिक 2018 में रजत पदक जीतने वाली भारतीय महिला पहलवान सिमरन अभी भी दिल्ली सरकार से पुरस्कार राशि मिलने का इंतजार कर रही हैं। उनका कहना है कि दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने 2018 में उन्हें यह पुरस्कार राशि देने का वादा किया था।
सिमरन उन नौ भारतीय पदक विजेताओं में शामिल हैं जिन्होंने 2018 में ब्यूनस आयर्स में आयोजित यूथ ओलंपिक में रजत पदक जीता था। भारत ने इस टूर्नामेंट में दो स्वर्ण पदक भी अपने नाम किया था।

सिमरन ने इस साल जुलाई में एक वीडियो में दिल्ली सरकार से उसके वादे के अनुसार उन्हें पुरस्कार राशि मुहैया कराने की अपील की थी ताकि वह फिर से अपनी ट्रेनिंग शुरू कर सकें।

- Advertisement -satish poonia

सिमरन को तुरंत दिल्ली सरकार के अधिकारियों की ओर से कहा गया था कि उन्हें अगस्त तक पुरस्कार राशि मिल जाएगी। लेकिन अगस्त बीत जाने के बाद भी भारतीय महिला युवा पहलवान को अभी तक दिल्ली सरकार से पुरस्कार राशि नहीं मिली है।

सिमरन के पिता राजेश का कहना है कि अब तक कुछ भी नहीं हुआ है।

राजेश ने आईएएनएस से कहा, उन्होंने कुछ दिन पहले छत्रसाल स्टेडियम में अधिकारियों से मुलाकात की थी और अधिकारियों ने कहा था कि वादे के अनुसार उन्हें 31 अगस्त तक पुरस्कार राशि मिल जाएगी।

राजेश ने कहा, अब वे कह रहे हैं कि हमें पैसे मिलेंगे लेकिन वे कब (लॉकडाउन के कारण) वे पुष्टि नहीं कर सकते। वे कह रहे हैं कि सरकार निश्चित रूप से पैसा देगी, हालांकि, कब देगी, वे इसे लेकर प्रतिबद्ध नहीं हैं।

इससे पहले, सिमरन ने एक वीडियो में कहा था, उस समय सत्येन्द्र जैन ने मुझे आश्वासन दिया था कि मुझे सरकार से नकद पुरस्कार मिलेगा। लेकिन दो साल हो गए हैं और अब तक मुझे कोई मदद नहीं मिली है। मैंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को भी इस बारे में अवगत कराने की कोशिश की, लेकिन मुझे अभी तक मेरे ईमेल का जवाब नहीं मिला है।

उन्होंने कहा था, मेरी खराब वित्तीय स्थिति के कारण मैं नियमित रूप से अभ्यास करने में सक्षम नहीं हूं। मैं दिल्ली सरकार से खेल कोटा के अनुसार अपना नकद पुरस्कार जारी करने की अपील करती हूं ताकि मैं फिर से अपनी ट्रेनिंग शुरू कर सकूं।

सिमरन ने 2018 यूथ ओलंपिक में न्यूजीलैंड, मोलदोवा, मिस्र और मंगोलिया की पहलवानों को हराकर अपने ग्रुप में टॉप किया था। हालांकि फाइनल में उन्हें अमेरिका की एमिली शिलसन से हार का सामना करना पड़ा था।

सिमरन ने एशियाई चैंपियनशिप में एक, स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य पदक अपने नाम किया था। इसके अलावा वह विश्व कैडेट चैंपियनशिप 2017 में कांस्य पदक हासिल करने में सफल रही थीं।

–आईएएनएस

ईजेडए-एसकेपी

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
दिल्ली सरकार से नहीं मिली पुरस्कार राशि: पहलवान सिमरन के पिता 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

आरोग्य सेतु ऐप किसने बनाया-इस पर कोई भ्रम की स्थिति नहीं : माइगोव के सीईओ

नई दिल्ली, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्रीय सूचना आयोग को नहीं पता कि आरोग्य सेतु ऐप किसने बनाया। इसको लेकर आयोग ने सरकार को नोटिस...
- Advertisement -

फुटवर्क और पेनल्टी कार्नर में सुधार पर ध्यान केंद्रित : कृष्ण पाठक

नई दिल्ली, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारतीय पुरुष हॉकी टीम के गोलकीपर कृष्ण पाठक ने कहा है कि ऐसे में जब कोई टूर्नामेंट नहीं हो...

आईपीएल, जहां पूर्व/मौजूदा राष्ट्रीय कप्तान होते हैं आम खिलाड़ी

नई दिल्ली, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। पूर्व आईपीएल विजेता सनराइजर्स हैदराबाद ने मंगलवार को दिल्ली कैपिटल्स को हरा दिया। इस टीम में चार ऐसे खिलाड़ी...

आईपीएल-13 : आरसीबी के खिलाफ मुंबई का गेंदबाजी का फैसला (लीड-1)

अबू धाबी, 28 अक्टूबर (आईएएनएस)। मुंबई इंडियंस ने बुधवार को यहां शेख जाएद स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ खेले जा रहे इंडियन...

Related news

समदड़ी प्रधान पिंकी चौधरी को प्रेमी ने बनाया बंधक, फ़ोटो, वीडियो किये वायरल

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति से निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी ने अशोक चौधरी नामक एक व्यक्ति, जिसको कथित तौर पर पिंकी...

खेत पर छोड़ने के बहाने बंधक बनाया था, प्रधान पिंकी चौधरी लौटना चाहती हैं अपने पुराने पति के पास, अशोक चौधरी से नहीं की...

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति से निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी (Pinky choudhary) के द्वारा भागने और कथित तौर पर अपने प्रेमी...

समदड़ी प्रधान Pinky choudhary रहना चाहती हैं अपने पुराने पति के साथ, पर यह है बड़ा संकट

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति के निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी अपने कथित प्रेमी और वर्तमान पति अशोक चौधरी से 2 महीने...

Pinky Choudhary पहले प्रेमी के साथ भागी, अब अपने पति के साथ जाना चाहती है

बाड़मेर। जिले की समदड़ी पंचायत समिति (Samdadi) प्रधान पिंकी चौधरी (Pinky Choudhary) अपने प्रेमी के साथ भाग गई। उसके साथ शादी कर...
- Advertisement -