रामगोपाल जाट@जयपुर।

राजस्थान में जैसलमेर जिले के महाजन फील्ड रेंज में करीब 1400 एकड़ जमीन कि अवैध खरीद-फरोख्त को लेकर प्रवर्तन निदेशालय के हत्थे चढ़े कांग्रेस की महासचिव प्रियंका वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

रॉबर्ट वाड्रा से आज जयपुर में प्रवर्तन निदेशालय ने 60 सवालों के जवाब दर्ज किए।

बताया जा रहा है कि प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों के सामने रॉबर्ट वाड्रा सहज नहीं थे।

हालांकि, सुबह जयपुर में कठपुतली नगर स्थित निदेशालय के ऑफिस में खुद प्रियंका वाड्रा उनको छोड़ने गई थी।

सूत्रों की मानें तो ईडी के समक्ष जवाब देते वक्त रॉबर्ट वाड्रा पूरी तरह आश्वस्त नजर नहीं आए, और कई सवालों का जवाब नहीं दे पाएं। जिसके चलते उनकी मुश्किलें बढ़ सकती है।

आपको बता दें कि यहां पर अवैध जमीन खरीद फरोख्त को लेकर रॉबर्ट वाड्रा के ऊपर लंदन में 25 करोड़ का घर लेने का आरोप है।

जिसके चलते दिल्ली में भी प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने लगातार तीन दिन तक 9 घंटे तक पूछताछ की थी।

दिल्ली हाई कोर्ट के द्वारा रॉबर्ट वाड्रा को 16 फरवरी तक गिरफ्तार नहीं करने के आदेश दे रखे हैं, लेकिन प्रवर्तन निदेशालय के द्वारा पूछताछ में कई अहम सवालों के जवाब नहीं देने के कारण ईडी कोर्ट से वाड्रा की गिरफ्तारी के लिए मांग कर सकती है।

अप्रैल-मई में लोकसभा चुनाव प्रस्तावित हैं। उससे पहले कांग्रेस पार्टी में जान फूंकने के लिए हाल ही में प्रियंका वाड्रा को महासचिव नियुक्त किया है।

लेकिन उनके पति के प्रवर्तन निदेशालय के शिकंजे में फंसने के बाद अब कांग्रेस के लिए भी परेशानी का समय शुरू हो चुका है।

अब देखना दिलचस्प होगा कि इस मामले में कॉन्ग्रेस पार्टी रॉबर्ट वाड्रा को बचाने में कामयाब हो पाती है, या करीब 3 साल से प्रयासरत प्रवर्तन निदेशालय की टीम वाड्रा को गिरफ्तार कर अपनी साख बचाने में कामयाब हो पाती है।