Jaipur

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक और नागौर सासंद हनुमान बेनीवाल ने एलान किया है रालोपा (rashtriy loktantrik party) निकाय चुनाव नहीं लड़ेगी।

हनुमान बेनीवाल ने खुद ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है। उन्होंने कहा है कि पार्टी खुद चुनाव नहीं लड़ेगी, किन्तु यदि कोई मजबूत उम्मीदवार मैदान में होगा तो उसका समर्थन करेगी।

बेनीवाल की रालोपा नहीं लड़ेगी चुनाव, आखिर क्या है कारण? 1

पार्टी का एलान ऐसे समय में आया है जब भाजपा पुरजोर तरीके से कह चुकी है कि रालोपा का शहरों में कोई जनाधार नहीं है, इसलिए उसके साथ गठबंधन नहीं किया जाएगा

बेनीवाल के इस फैसले के बाद शहरी निकायों के चुनाव में अपना भाग्य आजमाने की जुगत में बैठे रालोपा के सैंकड़ों कार्यकर्त्ता निराश हैं। इससे पार्टी के भविष्य के फैसलों पर भी विपरीत प्रभाव पड़ सकता है।

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले हनुमान बेनीवाल ने भाजपा से गठबंधन के लिए खूब गुहार लगाई थी, किन्तु भाजपा द्वारा बार-बार इनकार करने के कारण आखिर रालोपा को मैदान से हटने पर मजबूर होना पड़ा है।

पार्टी के चुनाव नहीं लड़ने के बेनीवाल के एलान के बाद यह बात साफ हो गई है कि वाकई में उसका शहरों में कोई वजूद नहीं है, वो केवल भाजपा के दम पर चुनाव मैदान में कूदने का दम भर रही थी।

हालांकि, हनुमान बेनीवाल ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि वह इन चुनावों में बीजेपी का साथ देगी, या नहीं देगी।