वंचित वर्ग के आरक्षण की लड़ाई कानून की नहीं न्याय की लड़ाई — तिवाड़ी

123
- नेशनल दुनिया पर विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 9828999333-
dr. rajvendra chaudhary jaipur-hospital

कोटा।
प्रदेश के वरिष्ठ नेता घनश्याम तिवाड़ी, भारत वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार कोटा आये। जहां उन्होंने कहा कि राजपूत, ब्राह्मण, वैश्य, कायस्थ के साथ ही आरक्षण से वंचित अन्य समाज के बच्चों के साथ वर्तमान सरकार ने धोखा किया है।
अब जब चुनाव सामने हैं तो वंचित वर्गों को आरक्षण के वादों से लुभाने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि हम पिछले 16 साल से लगातार वंचित वर्ग के आरक्षण की लड़ाई लड़ रहे हैं, जिसे इस सरकार ने स्वीकृति के बावजूद महज इसलिये दबा रखा है।
क्योंकि इसे मैंने प्राइवेट मेंबर के तौर पर विधानसभा में पेश किया था। तिवाड़ी ने कहा कि हमारी आरक्षण की लड़ाई, ‘कानून की लड़ाई नहीं न्याय की लड़ाई है।’
वाहिनी की सरकार बनी तो लोकसभा चुनाव से पहले वंचित वर्ग का आरक्षण लागू
वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष तिवाड़ी ने कहा कि वाहिनी अगर जीतकर सरकार में आती है, तो वंचित वर्गों को लोकसभा चुनावों से पहले ही आरक्षण दिलवायेगी।
उन्होंने कहा कि भारत वाहिनी पार्टी चुनाव में जीतकर सरकार बनाती है तो वंचित वर्ग को आरक्षण प्रदान किए जाने को लेकर गंभीर हो और केंद्र को अनुशंषा भेजकर विधानसभा में पारित विधेयकों को नवीं अनुसूची में शामिल किया जाए।
आवश्यक हो तो संविधान संशोधन लाकर आरक्षण प्रदान किया जायेगा। कांग्रेस और भाजपा जैसे दोनों बड़े दलों ने प्रदेश में सामाजिक समरसता बिगाड़ने का काम किया है, वहीं भारत वाहिनी पार्टी प्रदेश में सामाजिक समरसता बनाये रखने को संघर्ष कर रही है।
तीसरे मोर्चे के लिये राजस्थान तैयार
तीसरे मोर्चे की संभावनाओं पर बात करते हुए घनश्याम तिवाड़ी ने कहा कि राजस्थान में हमेशा से तीसरे मोर्चे के लिए स्थान रहा है और वो स्थान आज भी है।
गत वर्ष केंद्र और राज्य, दोनों जगहों पर कांग्रेस की सरकार रही थी। ऐसा ही अबकी बार भी केंद्र और राज्य में भाजपा की सरकारें हैं तब भी अगर प्रदेश को बीमारू राज्य का श्राप दिया जाता है तो उसके लिये अब तीसरा मोर्चा मजबूती से मैदान में उतरेगा।
क्योंकि अनुभव है कि जिन राज्यों में भी क्षेत्रीय दल अस्तित्व में हैं वे केंद्र से अपना हक छीन कर लेते हैं। इसलिये प्रदेश में हमेशा से ही त्रिदलीय अथवा बहुदलीय व्यवस्था मौजूद रही है और जैसे ही विकल्प सामने आयेगा प्रदेश की जनता का उसे समर्थन मिलेगा।
भारत वाहिनी पार्टी को जिस तरह से प्रदेश भर के युवाओं, किसानों, कर्मचारियों और मजदूरों का समर्थन मिल रहा है, तय है कि राजस्थान तीसरे मोर्चे के लिए पूरी तरह तैयार है।
 तिवाड़ी ने अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में कहते हैं कि ज्योतिरादित्य सिंधिया महाराजा है, उन्हें वोट मत दो, मगर जब राजस्थान आते हैं तो कहते हैं कि महारानी को वोट दो।
अब ऐसी गिरगिट की तरह बार बार बदलती दोगली नीति नहीं चलेगी। तिवाड़ी का भव्य स्वागत
शुक्रवार को घनश्याम तिवाड़ी कोटा पहुंचे।
वाहिनी कार्यकर्ताओं ने जिला अध्यक्ष मनीष शर्मा के नेतृत्व में कुन्हाड़ी पेट्रोल पंप चौराहे पर तिवाड़ी का भव्य स्वागत किया।
जिसके बाद वाहिनी कार्यकर्ताओं के साथ तिवाड़ी का काफिला कोटा शहर में घूमता हुआ सुभाष नगर स्थित कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे।
इस दौरान मनीष शर्मा, ​पीतांबर शर्मा, अजय भट्ट, मनीष चौधरी, अनुप शर्मा, ज्ञान सिंह, सुशीला सिंह, सुधांशु जैन, वाहिद मुल्तानी, अभिनव शर्मा, राजेश अजमेरा, अंकित शर्मा, भवानी पाईवाल और विप्र संजीव समेत अनेक कार्यकर्ता मौजूद थे।