कांग्रेस विधायक लड़की के मामले की जांच के लिए बैठे अनशन पर-

280
- नेशनल दुनिया पर विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 9828999333-
dr. rajvendra chaudhary jaipur-hospital

झुंझुनूं/जयपुर।

करीब 10 दिन पहले झुंझुनू जिले के नवलगढ़ में कांग्रेस के वर्तमान विधायक और प्रत्याशी डॉक्टर राजकुमार शर्मा के खिलाफ शारीरिक शोषण, मानसिक शोषण समेत डराने धमकाने का आरोप लगाकर धरने पर बैठी लड़की भले ही उठ गई हो, लेकिन विवाद अभी थमा नहीं है।

कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी डॉ राजकुमार शर्मा चुनाव खत्म होने के साथ ही आरोप लगाने वाली लड़की निशा शर्मा और उनके बीच बताए जा रहे कथित संबंधों की निष्पक्ष जांच नहीं करवाए जाने तक अनशन पर बैठे हैं।

डॉक्टर राजकुमार शर्मा ने कहा है कि जब तक निशा शर्मा के द्वारा उनके ऊपर मी टू का आरोप की जांच नहीं की जाएगी, तब तक वह आमरण अनशन पर बैठे रहेंगे।

राजकुमार शर्मा नवलगढ़ में अपने कार्यालय के बाहर ही अनशन पर बैठे हैं। वह कल चुनाव प्रक्रिया खत्म होने के बाद तुरंत अनशन पर बैठ गए थे।

आपको बता दें कि करीब 10 दिन पहले नवलगढ़ की ही रहने वाली निशा शर्मा ने एक वीडियो और लेटर जारी करते हुए डॉक्टर राजकुमार शर्मा पर शारीरिक और मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाया था। साथ ही साथ उनको नौकरी नहीं करने देने और लगातार परेशान करने का खुलासा किया था।

उसके बाद आरोप लगाने वाली निशा शर्मा नवलगढ़ के ये रामदेव जी मंदिर के बाहर बेमियादी धरने पर बैठ गई थी। उन्होंने कहा था कि जब तक राजकुमार के खिलाफ जांच नहीं होगी तब तक वह धरने पर बैठी रहेंगी।

इस मामले को लेकर निशा शर्मा ने नवलगढ़ थाने में एफआईआर दर्ज करवाई थी। जिसकी जीरो एफआईआर के आधार पर जयपुर के बजाज नगर थाने में धारा 376, 509, 511 और 354 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था।

आपको यह भी बता दें कि डॉक्टर राजकुमार शर्मा नवलगढ़ से लगातार तीसरी बार मैदान में उतरे हैं। वह 2008 में बहुजन समाजवादी पार्टी की टिकट पर विधायक होने थे। उसके बाद 2013 में द्वारा निर्दलीय विधायक चुने गए। इस बार कांग्रेस पार्टी ने उनको टिकट देकर चुनाव मैदान में उतारा है।