hanuman beniwal jivan parichay-
hanuman beniwal jivan parichay-

नागौर।
कभी विधानसभा और सदन के बाहर एक दूसरे पर आरोपों की बारिश करने वाले राजस्थान के दो दिग्गज गुरूवार को एक ही मंच पर थे। समर्थकों ने शायद पहली बार दोनों को मंच साझा करते हुए देखा था, इसलिए सुनने का मजा भी लेना था।

भाजपा दिग्गज लीडर और विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने हनुमान बेनीवाल की सभा में उनके ही हजारा समर्थकों की भीड़ में जो कसीदे गढ़े, वह तालियों की गड़गड़ाहट में तब्दील हो गए।

जैसे ही राजेंद्र राठौड़ ने माइक संभाला तो सभा में सन्नाटा फेल गया। मानों बहुत अहम बात सुननी हो, हुआ भी वही। जैसे ही राठौड़ के मुंह से हनुमान बेनीवाल को सम्मनित करने वाले शब्द निकल रहे थे, वैसे ही समर्थकों ने तालियां से सभा का गुंजायमान कर दिया।

आपको पुरानी बातों में ले जाने के बजाए इसी चुनाव तक सीमित रखते हैं। कुछ ही दिनों पहले भाजपा से गठबंधन कर एनडीए के उम्मीदवार बने बेनीवाल नागौर से लोकसभा चुनाव 2019 में उतरे हैं। उनके सामने कांग्रेस की ज्योति मिर्धा हैं, जिनको 2014 में हराने का श्रेय भी बेनीवाल को ही जाता है।

राठौड़ ने नागौर की जनता से कहा कि सारे के सारे अब सीआर चौधरी बनकर नरेंद्र मोदी के लिए हनुमान बेनीवाल को राजस्थान की सबसे बड़ी जीत देकर भेजो। जैसे ही बेनीवाल को लेकर खुशफहमी के शब्द राठौड़ के मुंह से निकले, तो मानों उनके कभी दिए गए बयानों की गंदगी साफ हो गई।

राजेंद्र राठौड़ ने भी स्थिति को भांपते हुए अपने मिजाज के मुताबिक गियर बदला और हनुमान बेनीवाल की इज्जत में जितना बोल सकते थे, उतना बोल डाला। ऐसे लग रहा था जैसे इनके बीच कभी कोई विरोधाभास था ही नहीं।