राजस्थान: डूंगरपुर में आदिवासी समुदाय के अभ्यर्थियों ने 10 किमी हाईवे कब्जे में लिया

जयपुर/डूंगरपुर। पिछले करीब 15 दिन से आदिवासी जिले डूंगरपुर में पहाड़ों पर चढ़कर धरना दे रहे आदिवासी समुदाय के अभ्यार्थी आज हिंसक हो गए। आदिवासी समाज से आने वाले अभ्यर्थियों ने डूंगरपुर में नेशनल हाईवे के 10 किलोमीटर के एरिया पर कब्जा कर लिया।

पुलिस के द्वारा उनको हटाने के लिए मशक्कत करनी पड़ी। लेकिन प्रदर्शन हिंसक होने के कारण पुलिस की गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया और हाईवे को जाम कर दिया गया।

इस हिंसक प्रदर्शन और पुलिस की कार्रवाई को लेकर राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने एक ही वीडियो बयान जारी करते हुए कहा है कि शिक्षकों के 1167 पदों पर अगर सरकार ने आदिवासी क्षेत्र के आने वाले अभ्यर्थियों को भर्ती नहीं किया तो आने वाले दिनों में पड़ा उग्र प्रदर्शन किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि शिक्षक भर्ती के रिक्त रहे 1167 पदों को आदिवासी समुदाय से आने वाले अभ्यर्थी आदिवासियों के द्वारा भरे जाने को लेकर पिछले करीब 15 दिन से प्रदर्शन कर रहे हैं।

टीएसपी क्षेत्र के 1167 पदों पर शिक्षकों की भर्ती नहीं हो पाई है और इन्हीं पदों पर आदिवासी अभ्यर्थियों को मौका दिए जाने की मांग की जा रही है।

यह भी पढ़ें :  विधानसभा चुनाव से पहले राजस्थान बना 'हड़तालिस्तान'