-आयुष्मान भारत महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना लागू

जयपुर।

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) सरकार के द्वारा साल 2015 में गरीबों को स्वास्थ्य लाभ देने के लिए शुरू की गई भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना (Bhamashah Swasthya Bima Yojana) 31 अगस्त को बंद हो रही है।

भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना (Bhamashah Swasthya Bima Yojana) के स्थान पर राजस्थान में अब आयुष्मान भारत महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना शुरू हो रही है।

इस योजना के तहत राजस्थान की भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना (Bhamashah Swasthya Bima Yojana) और केंद्र की आयुष्मान भारत योजना को एक करके मरीजों को लाभ देने की बात कही गई है।

लंबे इंतजार के बाद राजस्थान सरकार ने केंद्र की आयुष्मान भारत योजना को लागू करने पर अपनी सहमति जताई है।

इससे पहले राजस्थान में बीते 5 साल से भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना (Bhamashah Swasthya Bima Yojana) चल रही थी। 31 अगस्त 2019 से यह योजना बंद हो रही है।

तत्कालीन वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) सरकार द्वारा 2015 में भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना (Bhamashah Swasthya Bima Yojana) लागू की गई थी। जिसके तहत 30000 से लेकर 300000 तक की चिकित्सा सुविधा सभी अस्पतालों में मुफ्त दी जा रही थी।

इसके बाद केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने पिछले साल आयुष्मान भारत योजना शुरू की है। जिसके तहत देश भर में ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा दिया जा रहा है।

इसमें देश के 50 करोड लोग शामिल होंगे, जो किसी भी अस्पताल में ₹500000 तक का इलाज मुफ्त करवा सकेंगे।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) की स्वीकृति के बाद प्रदेश में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत चयनित परिवारों एवं सामाजिक आर्थिक एवं जाति आधारित जनगणना के आधार पर पात्र परिवारों को निशुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए आयुष्मान भारत महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना 1 सितंबर से प्रदेश भर में लागू कर दी गई।

इस योजना से राज्य के 1 करोड़ 10 लाख से अधिक परिवारों के लिए निशुल्क इलाज उपलब्ध हो सकेगा।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने बताया कि पूर्व में लागू भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना (Bhamashah Swasthya Bima Yojana) एवं आयुष्मान भारत योजना को एकीकृत कर प्रदेश में आयुष्मान भारत महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना लागू की गई है।

योजना में शामिल परिवारों को संपूर्ण चिकित्सा सुविधाएं कैशलेस उपलब्ध होंगी। वर्तमान भामाशाह स्वास्थ्य बीमा के पात्र परिवारों को पूर्ववत इलाज मिलता रहेगा।

डॉ शर्मा ने बताया कि आर्थिक सामाजिक एवं जाति आधारित जनगणना के आधार पर पात्र लाभार्थी परिवारों को भी वर्तमान योजना से जोड़कर योजना का दायरा बढ़ाया गया है।

वर्तमान में भामाशाह से संबद्ध सभी निजी व सरकारी अस्पताल (Government Hospital)ों में इस योजना का लाभ लिया जा सकता है।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अतिरक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह ने बताया कि इस योजना के अंतर्गत आज पहला हृदय रोग का ऑपरेशन (एंजियोप्लास्टी) नारायणा मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल में करौली निवासी निरंजन का किया गया।

उन्होंने बताया कि योजना के लागू होने से प्रदेश के दो तिहाई से भी अधिक परिवारों को स्वास्थ्य बीमा योजना मिल सकेगा।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) न भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना (Bhamashah Swasthya Bima Yojana) में करोड़ों रुपयों के घपले का आरोप लगाते हुए जांच के लिए मंत्रिमंडलीय समिति के गठन का दावा किया है।

Related posts