33 C
Jaipur
बुधवार, अक्टूबर 21, 2020

सचिन पायलट को फंसाने चले थे, अशोक गहलोत खुद आये लपेटे में

- Advertisement -
- Advertisement -

भोपाल/जयपुर। मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के द्वारा घनिष्ठ मित्रों सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया को आपस में लड़ाने का प्रोग्राम बनाया था।

अशोक गहलोत के राय देने के बाद कमलनाथ के द्वारा कांग्रेस आलाकमान से चंबल रीजन की 16 विधानसभा सीटों के लिए सचिन पायलट को स्टार प्रचारक बनाने के लिए मांग की गई थी, जिस पर कांग्रेसी आलाकमान ने सहमति दे दी है। सचिन पायलट ने भी वहां पर प्रचार करने के लिए अनुमति दे दी है।

चंबल रीजन कि इन 16 विधानसभा सीटों में से 9 विधानसभा सीटों पर गुर्जर समाज के वोटर्स का बाहुल्य है और यह सभी सीटें राजस्थान की सीमा से सटी हुई हैं। इसके चलते कमलनाथ चाहते हैं कि सचिन पायलट के रूप में यहां वोटर्स को रिझाने का काम किया जा सके।

माना जा रहा है कि सचिन पायलट के द्वारा यहां पर चुनाव प्रचार के लिए सहमति देने के बाद कमलनाथ जहां कुछ राहत महसूस कर रहे हैं, तो पायलट की इस सहमति के कारण कांग्रेस आलाकमान के नजर में उनका कद भी बढ़ गया है।

राजनीतिक साजिश के तहत मुख्यमंत्री अशोक गहलोत चाहते थे कि सचिन पायलट के ताबड़तोड़ हमलों से कुछ समय के लिए बचा जा सके। इसको देखते हुए उन्होंने कमलनाथ को मध्यप्रदेश में व्यस्त करने की सलाह दी थी, लेकिन अशोक गहलोत का यह दांव अब उन पर खुद पर ही भारी पड़ता हुआ नजर आ रहा है।

माना जा रहा है कि इन सभी 9 सीटों पर सचिन पायलट के प्रचार करने के कारण कांग्रेस को फायदा मिलेगा और यदि ऐसा होता है तो सचिन पायलट का कद बढ़ेगा, जिसका आने वाले समय में अशोक गहलोत को नुकसान उठाना पड़ेगा।

सचिन पायलट के साथ आज की तारीख में कांग्रेस के 40 से 45 विधायक माने जाते हैं और ऐसी स्थिति में यदि पायलट के प्रचार करने के कारण कांग्रेस को चंबल रीजन की 9 गुर्जर बाहुल्य सीटों पर फायदा मिलता है तो निश्चित रूप से आने वाले दिनों में अशोक गहलोत की सरकार के संचालन में दिक्कतें हो सकती हैं।

उल्लेखनीय है कि पिछले महीने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और टोंक से विधायक सचिन पायलट के बीच कांग्रेस आलाकमान के दखल के बाद राजनीतिक सुलह हो चुकी है, लेकिन इसके बावजूद दोनों नेताओं के बीच में जो दरार पैदा हुई है, वह कम नहीं हुई है।

सचिन पायलट खेमे के विधायक लगातार जनता की समस्याओं को लेकर और शिकायतों को लेकर अशोक गहलोत को पत्र लिखते रहते हैं। इसके साथ ही अपने पत्र की एक प्रति कांग्रेस आलाकमान को भी भेजते हैं। साथ ही एक प्रति आलाकमान के द्वारा बनाई गई तीन सदस्य समन्वय समिति को भी भेजने का काम किया जा रहा है।

पूरी प्लानिंग के साथ आगे बढ़ रहा है सचिन पायलट का कैंप अभी धीरे-धीरे अशोक गहलोत सरकार को चारों ओर से दबाव बनाने का काम कर रहा है। एक तरफ जहां पत्र अशोक गहलोत को भेजा जा रहा है तो दूसरी तरफ कांग्रेस आलाकमान और समन्वय समिति को भी भेजने के कारण पूरे सबूत अशोक गहलोत सरकार के नक्कारापन के जुटाए जा रहे हैं।

बहरहाल सचिन पायलट मध्यप्रदेश में कांग्रेस के लिए चुनाव प्रचार करेंगे। अपने पुराने मित्र ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ उनका समन्वय सर्वविदित है। ऐसे में दोनों मित्रों के बीच टकराव होने की कोई संभावना नहीं है, लेकिन चुनाव का परिणाम दोनों नेताओं के भविष्य पर पड़ने वाले सकारात्मक और नकारात्मक प्रभाव को दिखाने का काम जरूर करेगा।

- Advertisement -
सचिन पायलट को फंसाने चले थे, अशोक गहलोत खुद आये लपेटे में 3
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

भारत में वायु प्रदूषण से 2019 में 1.16 लाख से ज्यादा शिशुओं की मौत हुई : अध्ययन

नई दिल्ली, 21 अक्टूबर (आईएएनएस)। पहली बार नवजात शिशुओं पर वायु प्रदूषण के वैश्विक प्रभाव का व्यापक विश्लेषण करने से पता चला है कि...
- Advertisement -

एप्पल का आईओएस, आईपैडओएस 14.1 बग फिक्स संग जारी

सैन फ्रांसिस्को, 21 अक्टूबर (आईएएनएस)। एप्पल ने अपने हालिया डिवाइसों के लिए आईओएस 14.1 और आईपैडओएस 14.1 अपडेट को सपोर्ट और कुछ बग फिक्स...

फारूक को दूसरी बार समन मिलने पर भड़के उमर, नेशनल कॉन्फ्रेंस (लीड-1)

श्रीनगर, 21 अक्टूबर (आईएएनएस)। पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा उनके पिता और नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) के अध्यक्ष फारूक...

अफगानिस्तान में पाकिस्तानी वीजा के लिए मची भगदड़, 12 महिलाओं की मौत

काबुल, 21 अक्टूबर (आईएएनएस)। अफगानिस्तान के जलालाबाद शहर में बुधवार को पाकिस्तान के लिए वीजा लेने में लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई...

Related news

पंजाब: MSP से कम खरीदा तो 3 साल की जेल, नहीं होगी 2.5 एकड़ से कम ज़मीन कुर्क, राजस्थान भी ऐसा ही करेगा

चंड़ीगढ़/जयपुर। हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा संसद में जो 3 कृषि बिल पारित गए हैं, उनसे दो कदम आगे बढ़ते हुए...

दुनियाभर में कोरोना मामलों की संख्या 4.03 करोड़ के पार : जॉन्स हॉपकिन्स

वाशिंगटन, 20 अक्टूबर (आईएएनएस)। दुनियाभर में कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या बढ़कर 4.03 करोड़ के पार पहुंच गई है, जबकि इस बीमारी से...

एफबी, इंस्टाग्राम ने दुर्गा पूजा के लिए लॉन्च किए एआर फिल्टर्स, जीआईएफ और हैशटैग्स

नई दिल्ली, 20 अक्टूबर (आईएएनएस)। फेसबुक और इंस्टाग्राम ने मंगलवार को दुर्गा पूजा को ध्यान में रखते हुए कई नए फीचर्स और कंटेंट प्रोग्रामिंग...

भाजपा के संगठन ने दिखाई ताकत, 30% में सिमट गए विधायक

- कई वर्षों बाद भारतीय जनता पार्टी संगठन के द्वारा इतने बड़े पैमाने पर टिकट बांटे गए हैं। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद...
- Advertisement -