29 C
Jaipur
गुरूवार, अक्टूबर 29, 2020

पायलट-सिंधिया आमने-सामने, क्या यह गहलोत-कमलनाथ का खेल है?

- Advertisement -
- Advertisement -

जयपुर/भोपाल। मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी है। यहां पर होने वाले इस उपचुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी ने राजस्थान से सचिन पायलट को स्टार प्रचारक बनाया है।

राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष रहे सचिन पायलट को अशोक गहलोत के द्वारा राय देने पर कमलनाथ में कांग्रेस आलाकमान से मांग कर के स्टार प्रचारक बनाने का काम किया गया है।

- Advertisement -satish poonia

इन 28 सीटों पर मध्य प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी के सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की इज्जत दांव पर लगी है। जहां पर ज्योतिरादित्य सिंधिया के द्वारा पार्टी बदलने के कारण तत्कालीन कांग्रेस की कमलनाथ वाली सरकार गिरी थी और उनके पाला बदलकर भाजपा में शामिल होने से शिवराज सिंह सरकार बनने में कामयाब हुई।

इसके चलते एक तरफ जहां भारतीय जनता पार्टी की तरफ से ज्योतिरादित्य सिंधिया अपना राजनीतिक कद बढ़ाने के लिए प्रयास में जुटे हुए हैं, तो दूसरी तरफ कांग्रेस की तरफ से अशोक गहलोत और कमलनाथ के द्वारा जाल में फंसा कर सचिन पायलट को उनके सामने खड़ा कर दिया है।

गौरतलब है कि सचिन पायलट और ज्योतिरादित्य सिंधिया घनिष्ठ मित्र दोनों पहले कांग्रेस के नेता हुआ करते थे, लेकिन मार्च के महीने में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस पार्टी छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया। अभी ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा के टिकट पर राज्यसभा सांसद हैं।

एक तरफ जहां कांग्रेस के नेता के तौर पर सचिन पायलट स्टार प्रचारक बनाने के कारण मध्य प्रदेश के इस उपचुनाव में उनकी इज्जत दांव पर लगी है, तो दूसरी तरफ कांग्रेस छोड़कर भाजपा में जा अपनी ताकत बढ़ाने में जुटे ज्योतिरादित्य सिंधिया की भी यहां पर प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है।

बताया जा रहा है कि मध्य प्रदेश के चंबल रीजन की 16 विधानसभा सीटों में से 9 सीटें ऐसी हैं, जो राजस्थान की सीमा से लगती है और यहां पर गुर्जर समाज के वोटर का बाहुल्य होने के कारण कांग्रेस पार्टी सचिन पायलट के रूप में फायदा लेने का प्रयास कर रही है।

अगर यहां पर सचिन पायलट का प्रभाव चला और कांग्रेस जीतने में कामयाब रही तो उनके मित्र, यानी ज्योतिरादित्य सिंधिया की प्रतिष्ठा को गहरा आघात लगेगा और अगर कांग्रेस यहां पर चुनाव हार गई तो सचिन के रूप में स्टार प्रचारक बनाकर भेजे पायलट की भी प्रतिष्ठा कांग्रेस पार्टी में चोटिल होगी।

कुल मिलाकर देखा जाए तो दोनों ही तरह से अशोक गहलोत और कमलनाथ को फायदा होने वाला है। इसके साथ ही दो घनिष्ठ मित्रों के बीच में दरार पैदा करने के लिए भी अशोक गहलोत और कमलनाथ के द्वारा यह पूरा प्लान किया गया है।

- Advertisement -
पायलट-सिंधिया आमने-सामने, क्या यह गहलोत-कमलनाथ का खेल है? 3
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

उप्र : शौचालयों को सपा के रंग में रंगने पर भड़के सपाई

लखनऊ, 29 अक्टूबर (आईएएनएस)। गोरखपुर के रेलवे अस्पताल में शौचालयों पर लाल और हरे रंग का पेंट कराए जाने पर समाजवादी पार्टी (सपा) ने...
- Advertisement -

गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल का 92 वर्ष की आयु में निधन

गांधीनगर, 29 अक्टूबर (आईएएनएस)। गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता केशुभाई पटेल का गुरुवार की सुबह 92 वर्ष...

बेंगलुरु: कांग्रेस के प्रचार में बाधा डालने के आरोप में पूर्व भाजपा पार्षद गिरफ्तार

बेंगलुरु, 29 अक्टूबर (आईएएनएस)। कर्नाटक राज्य इकाई के कांग्रेस नेताओं द्वारा शिकायत दर्ज कराने के बाद बेंगलुरु पुलिस ने भाजपा के पूर्व पार्षद बी.के.वेंकटेश...

इंडियन गेमर्स के लिए सीगेट ने पेश किया हाई परफॉर्मेस स्टोरेज सॉल्यूशन

नई दिल्ली, 29 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारत में गेम खेलने के शौकीनों को हमेशा से एक बेहतरीन, तेज-तर्रार और पोर्टेबल गेमिंग सॉल्यूशन की चाहत रही...

Related news

समदड़ी प्रधान पिंकी चौधरी को प्रेमी ने बनाया बंधक, फ़ोटो, वीडियो किये वायरल

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति से निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी ने अशोक चौधरी नामक एक व्यक्ति, जिसको कथित तौर पर पिंकी...

खेत पर छोड़ने के बहाने बंधक बनाया था, प्रधान पिंकी चौधरी लौटना चाहती हैं अपने पुराने पति के पास, अशोक चौधरी से नहीं की...

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति से निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी (Pinky choudhary) के द्वारा भागने और कथित तौर पर अपने प्रेमी...

समदड़ी प्रधान Pinky choudhary रहना चाहती हैं अपने पुराने पति के साथ, पर यह है बड़ा संकट

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति के निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी अपने कथित प्रेमी और वर्तमान पति अशोक चौधरी से 2 महीने...

Pinky Choudhary पहले प्रेमी के साथ भागी, अब अपने पति के साथ जाना चाहती है

बाड़मेर। जिले की समदड़ी पंचायत समिति (Samdadi) प्रधान पिंकी चौधरी (Pinky Choudhary) अपने प्रेमी के साथ भाग गई। उसके साथ शादी कर...
- Advertisement -