करोड़ों किसान नए कृषि कानून से सशक्त होंगे: शर्मा

कांग्रेस द्वारा किये जा रहे कृषि विधेयकों के विरोध पर भाजपा मुख्य प्रवक्ता रामलाल शर्मा ने साधा निशाना, बोले: दशकों तक देश पर राज करने वाले किसानों से झूठ बोल रहे हैं।

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्य प्रवक्ता व विधायक रामलाल शर्मा ने कांग्रेस द्वारा किए जा रहे कृषि विधेयकों के विरोध पर निशाना साधते हुए कहा है कि दशकों तक देश पर राज करने वाले किसानों को झूठ बोल रहे हैं और गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं।

कांग्रेस किसानों को गुमराह कर अपने स्वार्थों की पूर्ति करना चाह रही है। विधायक रामलाल शर्मा ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गरीब, मजदूर, किसान व अंतिम पंक्ति में बैठे व्यक्ति के लिए समर्पित है और उनका सर्वांगीण विकास कर रहे हैं।

मोदी सरकार ने किसानों को सशक्त बनाने के लिए नए कानून बनाए हैं। जिससे किसान को आजादी मिलेगी। पहले किसान नजदीकी मंडी में अपनी फसल बेचने को मजबूर था।

लेकिन नया कानून बनने के बाद किसान को ये अधिकार मिला है कि वह देश की किसी भी मंडी, व्यक्ति, संस्था या कंपनी को अपने फायदे के अनुसार फसल बेच सकता है। नए कृषि कानून में संविदा खेती का भी प्रावधान रखा गया है।

जिसके अंतर्गत किसान अपनी बोई जाने वाली फसल के लिए किसी भी कंपनी या संस्था से कॉन्ट्रैक्ट कर सकता है और फसल होने के बाद वह कंपनी या संस्था खेत से फसल ले जा सकेगी।

इसका किसान की जमीन से कोई लेना-देना नहीं होगा। इसके अलावा नए कृषि कानून से किसान को अपने साथ होने वाली धोखाधड़ी से लड़ने के लिए भी कानूनन अधिकार मिला है।

यह भी पढ़ें :  महात्मा गांधी अस्पताल ने हाथ खड़े किए, कोरोना के मरीजों को एडमिट करने से इनकार

किसान भुगतान को लेकर अपने साथ होने वाली धोखाधड़ी के लिए 30 दिन के भीतर एसडीएम के पास मुकदमा दायर कर सकता है और समस्या का समाधान करवा सकता है।