जयपुर की संकरी गलियों में दौड़ेंगी मोटरसाइकिल एम्बुलेंस

-चिकित्सा मंत्री ने शहरों के संकरे रास्तों से मरीजों के लिए 5 बाइक एंबूलेंस को दिखाई हरी झंडी

जयपुर। शहरों की छोटी-छोटी गलियों में अक्सर एक्सीडेंट होने के बाद मरीजों को और घायलों को ले जाने के लिए एंबुलेंस के वाहन घुस नहीं पाते हैं। इसके समाधान के लिए राज्य में अब मोटरसाइकिल एंबुलेंस को की गई है।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बुधवार को निजी आवास से हीरो मोटोकॉर्प लिमिटेड द्वारा सीएसआर के तहत चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध कराई 5 बाइक एंबूलेंस (फर्स्ट रेस्पॉन्डर व्हीकल) को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

IMG 20200916 WA0021

डॉ शर्मा ने बताया कि शीघ्र ही जयपुर, जोधपुर और अजमेर शहर में इन बाइक एंबुलेंस को चलाने की योजना है।

उन्होंने कहा कि ये बाइक एंबूलेंस शहर की तंग-छोटी गलियों और संकरे रास्तों में जहां 108 या बेस एंबूलेंस नहीं पहुंच पाती वहां से मरीजों को अस्पताल तक पहुंचाने में मददगार साबित होंगी। इन एंबुलेंस बाइकों को प्रशिक्षित नर्सिंग स्टाफ द्वारा संचालित किया जाएगा।

IMG 20200916 WA0022

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निदेशक नरेश ठकराल ने बताया कि हीरो मोटोकॉर्प लिमिटेड ने इन बाइक एंबूलेंस को सीएसआर के तहत विभाग को दी हैं।

उन्होंने बताया कि ये बाइक एंबूलेंस सभी अत्याधुनिक सुविधओं मसलन फर्स्ट एड बॉक्स, फ्लोमीटर युक्त ऑक्सीजन सिलेंडर, ह्यूमीडिफायर मास्क, अग्निरोधी उपकरण, फोल्डेबल हुड और थ्री टोन सायरन से युक्त है।

उन्होंने बताया कि करीब 1.70 लाख रुपए कीमत की ये बाइक एंबूलेंस सभी आधुनिक सुविधाओं से युक्त होंगी।

यह भी पढ़ें :  क्या यह सही है कि समय के साथ भारत में कमजोर पड़ रहा है जानलेवा कोरोना?