ऐसे पकड़ में आईं प्रधान पिंकी चौधरी, पुलिस ने किया खुलासा

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति की प्रधान पिंकी चौधरी, जो कि 20 अगस्त को लापता हो गई थीं, उनको पुलिस ने रविवार दोपहर खोज लिया है।

बाड़मेर के समदड़ी पुलिस थानाधिकारी ने बताया कि किस तरह से बताया गया है कि 20 अगस्त को प्रधान पिंकी चौधरी के पिता की ओर से मामला दर्ज करवाया गया था कि उनकी बेटी लापता हो गई हैं।

इसकी इत्तला मिलते ही पुलिस के हाथ पैर फूल गये। आनन फानन में पुलिस अधीक्षक को हस्तक्षेप करना पड़ा। और पुलिस ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी।

इस बीच शनिवार को पुलिस अधीक्षक को एक मेल मिला, जिसमें प्रधान पिंकी चौधरी के हस्ताक्षर हुआ एक पत्र मिला, जिसमें लिखा था कि वह अपनी मर्जी से कहीं पर गई हैं और जब उसकी इच्छा होगी, तब वापस आ जाएंगी।

हालांकि, पुलिस ने उस मेल को सच नहीं माना और अपनी पड़ताल जारी रखी। आखिरकार रविवार को सुबह पुलिस के पास किसी ने फोन कर जानकारी दी है कि प्रधान उसके पिता के घर पर है, पुलिस वहां गई तो पिंकी नहीं मिली।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि इसके बाद उनको सुराख लगा कि पिंकी जोधपुर में किसी अशोक चौधरी के घर पर हैं। पुलिस ने दबिश देकर पिंकी को वहां से बरामद किया और अपने साथ ले आई।

इसके बाद पिंकी चौधरी ने खुद कहा कि वह अपनी मर्जी से अशोक चौधरी के पास थीं और उसके साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रही थीं। हालांकि, पुलिस को अभी भी अशोक चौधरी को सुराख नहीं मिला है।

यह भी पढ़ें :  बेनीवाल की RLP रविवार को प्रदेशभर में मचाएगी धूम, सरकार को जवाब देते नहीं बन रहा है

गौरतब है कि 21 साल की उम्र में 2015 के दौरान भाजपा के टिकट पर समदड़ी की प्रधान चुनी गईं पिंकी चौधरी ने आरोप लगाया कि उसके प्रधान बनने से लेकर अब तक उसके ससुर और पति ने कभी भी प्रधान के अधिकार नहीं दिये हैं।

पिंकी चौधरी ने यह भी कहा है कि उसने अभी तक कोई शादी नहीं की है, लेकिन वह अपनी खुशी से अशोक चौधरी के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रहना चाहती हैं। पिंकी चौधरी के अपने पति से दो बेटे हैं।

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और TwitterYouTube पर फॉलो करें.