पत्रकारों को वर्तमान हालातों से और जूझना होगा- राहुल देव

Jaipur news

वरिष्ठ पत्रकार राहुल देव ने कहा कि वामपंथ ने हमारे भारतीय आत्मबोध को बहुत नुकसान पहुंचाया है, किंतु वामपंथ अब भारत में चुनौती नहीं रहा है।

उन्होंने कहा कि अंग्रेजी तथा अंग्रेजियत भारतीयता के लिए सबसे बड़ा खतरा है। भारतीय भाषाओं के घटते प्रभाव पर चिंता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि हमारी भाषा बदलने के साथ-साथ चेतना भी बदल रही है।

img 20190616 wa00245815619624304298977

आने वाले समय में भारत आर्थिक रूप से निश्चित तौर पर प्रगति करेगा किंतु भारतीयता के समक्ष अनेक चुनौतियां भी हैं।

उन्होंने कहा कि भारतीय भाषाओं के बिना अंग्रेजी भाषा में भारत जीवित नहीं रह सकता। भारतीयता को जीवित रखने के लिये पत्रकारों को वर्तमान हालातों में और जूझना होगा।

img 20190616 wa00261867865751870848016

उन्होंने कहा कि समाज को अप्रिय सत्य को स्वीकार करने का भाव रखते हुए ईमानदार पत्रकारों की भी चिंता रखनी चाहिए।

राहुल देव रविवार को विश्व संवाद केन्द्र की ओर से आयोजित नारद जयंती और पत्रकार सम्मान समारोह कार्यक्रम में बोल रहे थे।

img 20190616 wa0021163386333512552137

उन्होंने कहा कि पत्रकार के कार्य की तुलना अन्य किसी भी कार्य से नहीं हो सकती। पत्रकार के कर्म से छवि निर्मित होती है इसलिए पत्रकार का कार्य विशिष्ट है।

राहुल देव ने कहा कि नारद जी अलौकिक थे, किंतु हम सब लौकिक एवं अपूर्ण है। नारद पत्रकारों के लिए श्रेष्ठ आदर्श हैं।

IMG 20190616 WA0023

वर्तमान दौर में पत्रकारों पर लगने वाले आरोपों को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए उन्होंने कहा कि कोई भी क्षेत्र मानवीय दुर्बलताओं से परे नहीं है।

उन्होंने कहा कि पत्रकारिता सदैव ही जटिल व जोखिम कार्य रहा है। हमें अतीत के मोह से बचकर भारत के सुनहरे भविष्य के लिए प्रयत्न करने चाहिए।

यह भी पढ़ें :  कांग्रेस के परिवारवाद को कोसने वाली भाजपा उसी की गिरफ्त में—

हम अतीत का पुनर्निर्माण तो नहीं कर सकते किंतु अच्छे भविष्य का निर्माण अवश्य कर सकते हैं।

IMG 20190616 WA0020

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह क्षेत्रीय प्रचारक निंबाराम ने कहा कि देश में भारत तथा भारतीयता को लेकर बड़े स्तर पर चिंतन भी चल रहा है तथा अनेक संगठन इस दिशा में काम भी कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि समाज में स्व का भाव जगाने का भी कार्य चल रहा है। पर्यावरण, ग्राम विकास, समरसता जैसे अनेक प्रमुख विषयों पर संघ कार्य कर रहा है।

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि पशुपति कुमार शर्मा ने कहा कि इस समय देश तथा पत्रकारिता दोनों के समक्ष अनेक चुनौतियां हैं।

IMG 20190616 WA0022

समाज में अपराध बढ़ रहे हैं तथा युवाओं में हीन भावना आ रही है। उन्होंने कहा कि पत्रकार समाज को दर्पण दिखाता है, किंतु वर्तमान दौर में पत्रकारिता पर भी प्रश्नचिन्ह लग रहे हैं तथा इस दौर में पत्रकारिता अग्निपरीक्षा से गुजर रही है।

कार्यक्रम की प्रस्तावना वरिष्ठ पत्रकार प्रदीप शेखावत ने रखी तथा आयोजन समिति के सचिव मुरारी गुप्ता ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

कार्यक्रम के दौरान लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से वरिष्ठ पत्रकार महेश चंद्र शर्मा को सम्मानित किया गया।

साथ ही प्रिंट मीडिया के क्षेत्र में प्रकाश चंद्र शर्मा, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में बसंत पांडे, वेब पोर्टल में प्रवीण जाखड़, फोटोग्राफी में अरविंद शर्मा तथा कार्टून विधा के लिए अभिषेक तिवारी को सम्मानित किया गया।