30 C
Jaipur
शनिवार, अगस्त 15, 2020

24 जुलाई तक फैसला सुरक्षित, स्पीकर करेंगे हाईकोर्ट के निर्णय का इंतजार

- Advertisement -
- Advertisement -

जयपुर। प्रदेश में चल रहे सियासी संग्राम के बीच पायलट गुट की ओर से हाईकोर्ट में लगाई गई याचिका पर निर्णय अब 24 जुलाई को होगा।

उच्च न्यायालय ने सुनवाई पूरी कर फैसले को सुरक्षित रख लिया है। हाइकोर्ट ने विधानसभा स्पीकर को भी 24 जुलाई तक किसी तरह की कार्रवाई नहीं करने का अनुरोध किया है। अब 24 जुलाई को ही इस मामले में फैसला आएगा।

इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी ने भी साफ कर दिया है कि वह भी फैसले का इंतजार करेंगे और हाइकोर्ट का निर्णय आने के बाद ही कोई कार्रवाई करेंगे।

कहा जा रहा है कि न्यायपालिका और विधायिका के बीच तालमेल बनाए रखने व एक दूसरे का सम्मान करने की दृष्टि से स्पीकर ने यह फैसला लिया है।

सरकारी मुख्य सचेतक महेश जोशी की याचिका पर विधानसभा अध्यक्ष ने 19 विधायकों को नोटिस जारी किए थे। नोटिस जारी होने के बाद पायलट गुट के विधायकों ने उच्च न्यायालय में याचिका लगाकर नोटिसों को गलत बताया था।

दोनों पक्षों के वकीलों ने 17 से 21 जुलाई तक न्यायालय के सामने अपने तर्क रखे। पायलट गुट के वकील हरीश साल्वे और मुकुल रोहतगी ने विधायकों की अयोग्यता संबंधी नोटिस पर अंतरिम रोक लगाने के लिए तर्क दिए कि किसी व्यक्ति का विरोध करना सरकार गिराने की श्रेणी में नहीं आता है।

इस बात की भी दलील दी गई कि मुख्य सचेतक महेश जोशी की याचिका पर विधानसभा अध्यक्ष ने तत्काल नोटिस जारी किया, जबकि 4 महीने पहले बीजेपी विधायक मदन दिलावर ने बीएसपी विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने के नियम को गलत बताते हुए उनको अयोग्य करने की मांग की गई थी, लेकिन विधानसभा अध्यक्ष ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है, जो यह दर्शाता है कि उनके मामले में निष्पक्षता के साथ कार्रवाई नहीं हो रही है।

विधानसभा अध्यक्ष के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि विधायिका के मामले में न्यायपालिका दखल नहीं कर सकता है। इसलिए यह याचिका खारिज होने के योग्य है।

उन्होंने कहा कि अभिव्यक्ति की आजादी का मतलब कुछ भी करने की स्वतंत्रता नहीं है।

संविधान ने विधानसभा के संचालन का अधिकार विधानसभा अध्यक्ष को दिया है और यह नियम संविधान का हिस्सा है कि अध्यक्ष के पास विधायकों को अयोग्य घोषित करने का अधिकार है, जिसकी न्यायिक समीक्षा नहीं हो सकती है।

यह पूरा मामला विधायिका का है और इसे अध्यक्ष के ऊपर छोड़ देना चाहिए।

- Advertisement -
24 जुलाई तक फैसला सुरक्षित, स्पीकर करेंगे हाईकोर्ट के निर्णय का इंतजार 3
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

धोनी मैदान पर बिना किसी मलाल के अलविदा कहेंगे : गांगुली

नई दिल्ली, 15 अगस्त (आईएएनएस)। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से शनिवार को संन्यास लेने वाले पूर्व...
- Advertisement -

आरएसएस के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय बोले- संगठन को लचीला होना चाहिए, ढीला नहीं

नई दिल्ली, 15 अगस्त (आईएएनएस)। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने कहा है कि किसी संगठन को लचीला होना चाहिए,...

कानपुर बिकरू कांड में शामिल राजेन्द्र मिश्रा गिरफ्तार

कानपुर, 15 अगस्त (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश में कानपुर के बिकरु कांड में पुलिस मुठभेड़ में मारे गये प्रभात मिश्रा के पिता राजेन्द्र मिश्रा, जो...

धोनी पर बोले कोहली-लोगों ने आपकी उपलब्धियां देखी हैं, मैंने आपको देखा है

नई दिल्ली, 15 अगस्त (आईएएनएस)। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास पर कहा है कि इस पूर्व कप्तान...

Related news

RLP मुखिया हनुमान बेनीवाल का नया रूप आया सामने, क्या इसके मायने?

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक और नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल का नया रूप सामने आया है। हनुमान बेनीवाल ने खुद फेसबुक...

Jaipur rain: जयपुर में 1981 जैसे बाढ़ के हालात, विधायक भी फंसे

जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर में सुबह 3:00 बजे से शुरू हुई भारी बरसात का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा...

आत्म-निर्भर भारत पर निबंध लिखेंगे देशभर के छात्र

नई दिल्ली, 6 अगस्त (आईएएनएस)। स्वतंत्रता दिवस समारोह के उपलक्ष्य में माईगव के साथ साझेदारी में शिक्षा मंत्रालय देश भर में स्कूली छात्रों के...

गहलोत ने जाट, गुर्जर मीणा, समाज के कई वरिष्ठ नेताओं की राजनीतिक हत्या की है: बेनीवाल

जयपुर। नागौर के सांसद और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक हनुमान बेनीवाल ने ट्विटर पर ताबड़तोड़ हमले करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा...
- Advertisement -