वसुंधरा-गहलोत दोनों एक दूसरे के भ्रष्टाचार पर पर्दा डालते हैं: बेनीवाल

जयपुर। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक और नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के राजनीतिक गठजोड़ पर तगड़ा प्रहार करते हुए कहा है कि दोनों नेता एक दूसरे के भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने का काम करते हैं।

केंद्र के नरेंद्र मोदी सरकार में गठबंधन के सहयोगी और राजस्थान में भाजपा के सहयोगी हनुमान बेनीवाल लगातार अशोक गहलोत और वसुंधरा राजे के खिलाफ भ्रष्टाचार को लेकर हमलावर बने रहते हैं।

राजस्थान में 2013 से 2018 तक की वसुंधरा राज्य सरकार के दौरान हनुमान बेनीवाल में राजस्थान के नागौर, बाड़मेर, जोधपुर, सीकर, जयपुर में लाखों लोगों की बड़ी रैलियां करके राज्य सरकार की जड़े हिला दी थीं।

इससे पहले बेनीवाल ने कहा था कि दिसंबर 2018 में, जबकि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट मुख्यमंत्री बनने की संभावना थी, लेकिन अशोक गहलोत के द्वारा आलाकमान के सामने चमचागिरी करके मुख्यमंत्री का पद हथिया लिया गया, परिणाम यह हुआ कि राजस्थान अपराध की राजधानी बन गया है।

हनुमान बेनीवाल राजस्थान में 1998, 2008, 2018 में अब तक तीन बार मुख्यमंत्री रह चुके अशोक गहलोत और 2003 से 2008 वह 2013 से 2018 तक 2 बार मुख्यमंत्री रही वसुंधरा राजे के खिलाफ भ्रष्टाचार को लेकर ताबड़तोड़ हमले करते रहते हैं।

उल्लेखनीय है कि राजस्थान में अशोक गहलोत की सरकार के ऊपर राजनीतिक संकट आया हुआ है। सचिन पायलट की अगुवाई में कांग्रेस के दो दर्जन से ज्यादा विधायक बगावत कर के बैठे हुए हैं और भाजपा के द्वारा कहा जा रहा है कि राज्य की सरकार अल्पमत में है।

यह भी पढ़ें :  बुधवार को राजस्थान में नहीं मिला एक भी कोरोना पॉजिटिव केस