एक सफल राज्य की कहानी लिखने की बजाय अशोक गहलोत एक असफल नाटक की कहानी लिख बैठे!

जयपुर। राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह जिले जोधपुर से भाजपा के सांसद और केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा है कि “एक सफल राज्य की कहानी लिखने की बजाय अशोक गहलोत एक असफल नाटक की कहानी लिख बेटा!”

राजस्थान की राजनीति में पिछले 2 दिन से जो राजनीतिक उठापटक चल रही है उसके बीच राज्य के उप मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष आज अपने दोनों ही पदों से इस्तीफा देकर भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर सकते हैं।

सूत्रों का दावा है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ फोन पर उनकी बातचीत हो चुकी है और आज अपने समर्थक 30 से लेकर 40 विधायकों के साथ कांग्रेस से इस्तीफा देकर भाजपा की सदस्यता ले सकते हैं।

दूसरी तरफ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत खेमे की तरफ से कहा जा रहा है कि राजस्थान में पर्याप्त संख्या बल होने के कारण राज्य के सरकार को कोई संकट नहीं है, अशोक गहलोत के समर्थन में 115 विधायक हैं, जबकि आज ही 10:30 बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक होने जा रही है।

कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल होने से उप मुख्यमंत्री और कांग्रेस के अध्यक्ष सचिन पायलट ने इंकार कर दिया है। उन्होंने कहा है कि उनके समर्थन में 30 कांग्रेस के और कुछ निर्दलीय विधायक हैं जो कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल नहीं होंगे।

उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा है कि प्लीज विधायक उनके साथ हैं और राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार अल्पमत में आ गई है। आज का दिन राज्य की सरकार के लिए अति महत्वपूर्ण है।

यह भी पढ़ें :  राजस्थान के हर जिले में होगा मेडिकल कॉलेज, 15 नए मेडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा

इस बीच सुनने में आया है कि अजय माकन, रणदीप सुरजेवाला, अविनाश पांडे और अशोक गहलोत की रविवार देर रात गुप्त मंत्रणा के बाद सचिन पायलट को पीसीसी अध्यक्ष से हटाने के लिए आलाकमान को प्रस्ताव भेजा गया है।