सचिन पायलट भाजपा में शामिल होंगे, सोमवार को जेपी नड्डा के सामने लेंगे पार्टी की सदस्यता

जयपुर। राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष और राज्य के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के समक्ष भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता लेंगे।

इससे पहले खबर लिखे जाने तक राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सरकारी निवास पर कांग्रेस के आला नेताओं की बैठक हो रही थी। बैठक में रणदीप सुरजेवाला, अविनाश पांडे, अजय माकन और मुख्यमंत्री गहलोत शामिल हैं।

पीसीसी पद से छुट्टी तय

बताया जा रहा है कि कांग्रेसी नेताओं के द्वारा पीसीसी अध्यक्ष सचिन पायलट को हटाने के लिए केंद्रीय आलाकमान के सामने रिपोर्ट प्रस्तुत की जाएगी, जिसके बाद कल उनके अध्यक्ष पद से बर्खास्त करने की लिखित सूचना दी जा सकती है।

पायलट की बैठक जारी

दूसरी तरफ गुरुग्राम के एक होटल में सचिन पायलट, उनके समर्थक करीब 30 कांग्रेस व निर्दलीय विधायक और भारतीय जनता पार्टी के कुछ उच्च स्तरीय नेताओं की बैठक हो रही है, जिसमें आगे की रणनीति पर बातचीत की जा रही है।

क्या मोदी मंत्रिमंडल में होगी एंट्री?

सूत्रों का दावा है कि सचिन पायलट को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी केंद्रीय सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाए जाने पर फैसला हो चुका है, जबकि राजस्थान में भाजपा की सरकार में बीजेपी के ही प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया को मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है।

सोमवार का दिन राजस्थान की राजनीति में बड़ी उथल-पुथल पैदा करने वाला दिखाई दे रहा है। माना जा रहा है कि अल्पमत में होने के कारण मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपने मंत्रिमंडल के साथ सोमवार को राज्यपाल कलराज मिश्र को इस्तीफा सौंप सकते हैं।

कौन होगा अगला मुख्यमंत्री?

यह भी पढ़ें :  जन्मदिन मनाकर सचिन पायलट ने अशोक गहलोत को अंदर तक हिलाया

राजनीतिक चर्चाओं में रविवार देर रात इस बात के कयास बड़ी शुरू हो गई है कि अशोक गहलोत की सरकार गिरने के बाद भारतीय जनता पार्टी की तरफ से किस नेता को मुख्यमंत्री बनाया जाएगा?

वसुंधरा राजे सीन से आउट

इस बीच सबसे रोचक बात यह है कि पिछले 1 महीने से चल रहे राजनीतिक उठापटक में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे कहीं भी दिखाई नहीं दे रही हैं। पार्टी की तरफ से सारी जिम्मेदारियों का निर्वहन प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया कर रहे हैं।