हर समाज और हर व्यक्ति के लिये हमारा संविधान है, जो हर आम व्यक्ति को सम्पूर्ण अधिकार देता है: लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला

संपूर्ण देश एक साथ एक माला में पिरोकर एक अच्छे संस्कार का लोकतंत्र हमें संसद में दिखता है: ओम बिरला
विदेशों में राजस्थानी, गुजराती सहित सभी भारतीय बढ़ा रहे देश का मान-सम्मान: डॉ. सतीश पूनियां
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने यूके के सांसद पद्मश्री बॉब ब्लैकमैन को दिया राजस्थान आने का निमंत्रण, किया स्वीकार

जयपुर।

राजस्थान एसोसिएशन यूके और वर्ल्ड इंडियन फोरम द्वारा आयोजित “गैलेक्सी ऑफ़ द स्टार्स” वर्चुअल कार्यक्रम Time to witness the positivity of the world’sbiggest democracy विषय पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संबोधित किया।

जिसमें उन्होंने भारतीय लोकतंत्र एवं संसद की कार्यप्रणाली के बारे में पूछे गये सवालों के जवाब भी दिये। वर्चुअल कार्यक्रम को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने मॉडरेट किया, जिसमें यूके के सांसद बॉब ब्लैकमैन सहित तमाम हस्तियां जुड़ीं।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संबोधित करते हुये एवं विभिन्न सवालों के जवाब देते हुये उन्होंने कहा कि, इस विशिष्ट अवसर पर आप सभी से जुड़कर मुझे प्रसन्नता हुई, राजस्थान की माटी की खुशबू देश-दुनिया में महक रही है, यह साधना एवं वीरों की धरती है।

राजस्थान की गौरवशाली संस्कृति की भारतीय संस्कृति में विशेष पहचान है, देश से विदेशों तक राजस्थान के लोगों की पहचान खान-पान, रहन सहन, सामाजिक सेवाओं एवं परंपराओं से बनी है, अन्य राज्यों में भी छोटा राजस्थान नजर आता है, वहीं विदेशों में भी राजस्थानी संस्कृति को जीवंत रखते हैं।

बिरली ने कहा कि, उद्यमशीलता, संघर्ष करने की शक्ति से राजस्थानियों ने सफलता पाई है, इसी से उन्होंने देश-दुनिया में पहचान बनाई है, देश की सीमाओं की रक्षा के लिये भी सेना में शामिल होकर प्रदेश के नौजवानों का बड़ा योगदान है।

उन्होंने कहा कि प्राचीन भारतीय संस्कृति ने हमें संस्कार दिये, अच्छे विचार दिये हैं और हमारा अदभुद लोकतंत्र भी प्राचीन परंपराओं का हिस्सा है, आज मैं गर्व से कह सकता हूं दुनियाभर में भारत का लोकतंत्र कार्यशील लोकतंत्र है, हमारा संविधान हमारा मार्गदर्शन करता है।

बहुजन हिताय बहुजन सुखाय की प्रेरणा देता है, विविधता हमारी संस्कृति का हिस्सा, संसद में अलग-अलग संप्रदाय, धर्म, अनेकों जगहों के जनप्रतिनिधि चुनकर आते हैं, और संसद रूपी लोकतंत्र के मंदिर में संवैधानिक परंपराओं को निभाते हुये अपनी अभिव्यक्ति करते हैं, भावनाओं, अभावों एवं समस्याओं को व्यक्त करते हैं, जनता की अभिव्यक्ति को संसद के माध्यम से सरकार तक पहुंचाने का काम करते हैं, संपूर्ण देश एक साथ एक माला में पिरोकर एक अच्छे संस्कार का लोकतंत्र हमें संसद में दिखता है, यह हमारी ताकत है।

यह भी पढ़ें :  NRC विरोध के बीच इस पुलिस वाले की दिल दहलाने वाली कहानी आपके रोंगटे खड़े कर देगी


लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने कहा कि, हमारे देश की जनता में लोकतंत्र के मूल्यों की प्रति आस्था बढ़ती जा रही है, जब देश के हित की बात हो तो सभी जनप्रतिनिधि दलों से ऊपर उठकर एकजुट रहते हैं, देश में अब तक 17 लोकसभा चुनाव हो चुके हैं, लोगों का मत प्रतिशत बढ़ता गया, लोगों में लोकतंत्र के प्रति आस्था बढ़ी है, जिससे लोकतंत्र मजबूत हुआ है।

उन्होंने कहा कि, सर्दी, गर्मी हर मौसम में जब भी चुनाव होते हैं तो मतदाता किलोमीटरों चलकर भी मतदान करते हैं, जिससे जनप्रतिनधि की भी जिम्मेदारी बढ़ जाती है।


उन्होंने कहा कि, संविधान की मर्यादाओं से देश चलता है, गरीब एवं मध्यम वर्गीय परिवारों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिये हम संसद में चर्चा करते हैं, कानून बनाते हैं, हमारी पूरी कोशिश रहती है कि अभावग्रस्त लोगों की आवाज संसद बने और उसी दिशा में हम काम कर रहे हैं।

आज दुनियाभर में भारत की साख बढ़ी है, अन्तराष्ट्रीय स्तर पर नई पहचान बनी है, गौरव बढ़ा है, प्रतिष्ठा बढ़ी है और भारत के प्रति लोगों का विश्वास बढ़ा है, विश्वास बढ़ाने में देश के सभी लोगों की महत्वपूर्ण भूमिका है, दुनियाभर के देशों से भी हमारे संबंध मजबूत हुये हैं।

हमारी सरकार विकास की नीति पर काम कर रही है, आर्थिक विकास पर विशेष जोर दे रही है, भारत को पर्यावरण सहित विभिन्न विषयों पर विभिन्न देशों में हुये कार्यक्रमों का नेतृत्व करने का मौका मिला है।

अंतरसंसदीय देशों के सम्मेलन में हमारे प्रस्ताव का समर्थन किया गया, हर मोर्चे पर अब भारत बड़ी भूमिका में उभरकर दुनिया के सामने आ रहा है।

यह भी पढ़ें :  सीएम गहलोत पर बेटी और दामाद को करोड़ों रुपये का अवैध फायदा पहुंचाया


बिरला ने कहा कि, राजस्थान के लोगों ने भी दुनियाभर में आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक रूप से संबंधों को मजबूत करने का काम किया है, आप सभी से मेरी अपील है कि भारत को आर्थिक मजबूती देने के लिये अपना विशेष योगदान देते रहें।

उन्होंने कहा कि, कोरोना महामारी काल में भारत ने उदारता दिखाते हुये सभी देशों की मदद करने की पहल की, जिसके सकारात्मक परिणाम भी सामने आ रहे हैं। कोरोना से दुनियाभर में लोगों के जीवन में सामाजिक, आर्थिक परिवर्तन आये हैं, ऐसे दौर में आई समस्याओं का हम सभी को मिलकर समाधान निकालना है।


कार्यक्रम में शामिल गणमान्य लोगों के विभिन्न सवालों के जवाब देते हुये बिरला ने कहा कि, यूके सरकार लोकतांत्रिक मूल्यों को मजबूत करने के लिए कदम उठाती रहती है, इसके लिए उन्हें बहुत बधाई देता हूं।

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि, संसदीय समितियां लंबी चर्चा कर बिल के ड्राफ्ट को संसद में लेकर आती हैं, जिससे और जनप्रतिनिधियों से भी संबंधित बिल पर संवाद हो सके।


उन्होंने संसद में किये गये नवाचारों के बारे में कहा कि, संसद देखने वाले लोगों के लिये ऑनलाइन दर्शक दीर्घा व्यवस्था भी लागू की है, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराकर कोई भी व्यक्ति संसद देखने आ सकता है, कोरोना के खत्म होने पर यह व्यवस्था सुचारू रूप से लागू हो जाएगी।

बिरला ने कहा कि, हमारा संसद व्यापक भी है, सर्वस्पर्शी भी है, हर समाज और व्यक्ति के लिये हमारा संविधान है, हर आम व्यक्ति को सम्पूर्ण अधिकार देता है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने संबोधन में कहा कि, भारत एवं लोकतंत्र विषय पर आयोजित इस कार्यक्रम को दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश भारत की लोकसभा के लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने लोकसभा की कार्यप्रणाली से अवगत कराया, संविधान की खूबियों के बारे में चर्चा की।

यह भी पढ़ें :  कल से इन 55 रूट्स पर दौड़ेंगी रोडवेज की बसें


भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. डॉ. पूनियां ने कहा कि, राजस्थान एसोसिएशन यूके और वर्ल्ड इंडिया फोरम ने संयुक्त रूप से यह कार्यक्रम आयोजित कर भारत की लोकतांत्रिक व्यवस्था पर चर्चा की, भारतीय लोकतंत्र एवं भारत का दुनियाभर में सम्मान बढ़ा है।


उन्होंने कहा कि ओम बिरला जी ने छात्र राजनीति से अपनी राजनीति पारी की शुरुआत की, युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष रहे, फिर भाजपा संगठन में काम किया, संघर्ष कर आगे बढ़ते हुये लोकसभा अध्यक्ष के पद पर पहुंचे हैं।

उन्होंने कहा कि देश की राजनीति में युवाओं की भागीदारी बढ़ती जा रही है, आज हमारे देश की संसद में काफी संख्या में युवा सांसद है, जो एक सकारात्मक बदलाव है।


डॉ. पूनियां ने कहा कि, विदेशों में रह रहे राजस्थानियों, गुजरातियों एवं अन्य राज्यों के लोग देश की तरक्की के लिये अच्छा काम कर रहे हैं और देश मान-सम्मान भी दुनियाभर में बढ़ रहे हैं।


पूनियां ने पिछले साल लंदन में पद्मश्री बॉब ब्लैकमैन से हुई मुलाकात को ताजा करते हुये उन्होंने उन्हें डेलिगेशन सहित राजस्थान आने का न्यौता दिया है, जिसे बॉब ने स्वीकार करते हुये कहा कोरोना खत्म होने पर सामान्य हालात में वे राजस्थान जरूर आएंगे।

डॉ. पूनियां ने पीटर कुक से 6 महीने पहले जयपुर में हुई मुलाकात के संस्मरण को भी याद किया।


सतीश पूनियां ने कहा कि बॉब ब्लैकमैन की राजनीतिक ताकत के पीछे भारतवंशियों का एक बड़ा योगदान है। यूके में होने वाले आगामी चुनाव में बॉब को समर्थन देने के लिए भारतीय एवं राजस्थानियों से अपील करता हूं, और बॉब को आगामी चुनाव के लिये शुभकामनायें देता हूं।


लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां के साथ इस कार्यक्रम में यूके के सांसद पद्मश्री बॉब ब्लैकमैन, राजस्थान-गुजरात प्रांत के यूके के डिप्टी कमिश्नर पीटर कुक, ऑवरसीज फ्रेण्ड्स ऑफ यूके के अध्यक्ष कुलदीप शेखावत, हरेन्द्र जोधा, सूर्यप्रताप सिंह, विधायक सुमित गोदारा सहित अन्य कई गणमान्य लोग जुड़े।