प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश और लोकतंत्र सुरक्षित हैंः डाॅ. सतीश पूनियां

डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने अखण्ड भारत के निर्माण की नींव रखी: डाॅ. पूनियां


भाजपा प्रदेश कार्यालय में डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को दी श्रद्धांजलि, किया वृक्षारोपण


डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के जन्म जयंती पर्व पर भाजपा ने किया वृक्षारोपण अभियान का शुभारम्भ


जयपुर।

भाजपा प्रदेश कार्यालय में जनसंघ के संस्थापक डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनिया, प्रदेश महामंत्री (संगठन) चंद्रशेखर एवं पार्टी कार्यकर्ताओं ने पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें नमन किया एवं पार्टी कार्यालय परिसर में वृक्षारोपण किया।

डाॅ. सतीश पूनियां ने कहा कि भाजपा प्रदेश मुख्यालय में माँ भारती के महान सपूत डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जन्म जयंती पर उनका स्मरण कर उनकी स्मृति में पौधारोपण किया।

उन्होंने कहा कि डाॅ. मुखर्जी ऐसे व्यक्ति थे, जिन्होंने स्वतंत्रता से पूर्व व बाद भी अखण्ड भारत के निर्माण की नींव रखी, आज की आधुनिक पीढ़ी के लिए वे मिसाल बन गए।

इसके बाद भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने कानोता में गौशाला में भाजपा किसान मोर्चा द्वारा आयोजित कार्यक्रम में वृक्षारोपण कर डाॅ. श्याम प्रसाद मुखर्जी को श्रद्धांजलि दी।

भाजपा के बस्सी पश्चिम मण्डल में भारतीय जनता युवा मोर्चा द्वारा कोखावाला गाँव में आयोजित कार्यक्रम में वृक्षारोपण किया एवं जनसंघ से जुड़े बुजुर्गों का सम्मान किया।

डाॅ. सतीश पूनियां ने कहा कि डाॅ. श्याम प्रसाद हम सबके प्रेरणा पुंज थे, जिनकी जन्म जयंती पर वृक्षारोपण अभियान की शुरूआत बस्सी से की है, जो प्रदेशभर में हर बूथ तक चलेगा।

उन्होंने कहा कि डाॅ. श्याम प्रसाद मुखर्जी विचारों और सत्ता परिवर्तन के कारक थे, वहीं पण्डित दीनदयाल उपाध्याय ने गरीब के कल्याण का विचार दिया और आज जितनी भी सरकारी नीतियां है, उनमें उनके अन्त्योदय की झलक दिखती है।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि, आज डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर हमने निश्चित किया है कि प्रदेशभर में प्रत्येक बूथ पर कम से कम 10 पौधे लगायेंगे, इस अभियान की शुरुआत कानोता एवं बस्सी में हुई है।

यह भी पढ़ें :  Breaking news: तिवाड़ी, बेनीवाल, अहलावत, गोयल, हुड़ला समेत ये 12 विधायक भी कांग्रेस....

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में पर्यावरण की दृष्टि से वृक्षारोपण बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की सरकार ने दूरदर्शी सोच के साथ स्वच्छ भारत मिशन शुरू किया था, जिसके सकारात्मक परिणाम मिले, कई लाख शौचालय देशभर में बनाये।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि कोरोना काल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में एवं पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा के निर्देशन में देशभर में भाजपा कार्यकर्ता ने सेवा कार्य किये और राजस्थान में भी जरूरतमंदों की लगातार तीन महीने तक भोजन, राशन, फेस कवर, चरण पादुका इत्यादि सेवायें की गई।

उन्होंने कहा कि 4 जुलाई को हमने ‘‘सेवा ही संगठन’’ अभियान के अंतर्गत पार्टी की प्रदेशभर के सेवा कार्यों की रिपोर्ट प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के समक्ष वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से प्रस्तुत की।

प्रदेशभर में पार्टी द्वारा किये गये सेवा कार्यों एवं नवाचारों की प्रधानमंत्री ने प्रशंसा की, अनुकरणीय बताया है, इससे हमें सम्बल मिलता है, कार्य के प्रति हमेशा लगन एवं समर्पण की प्रेरणा मिलती है।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत पूरी तरह सुरक्षित है, हमारे देश का लोकतंत्र सुरक्षित है।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में यूरोप के तमाम देश बिखर गये, लेकिन मोदी के कुशल एवं मजबूत नेतृत्व में 135 करोड़ की आबादी वाला हमारा देश सुरक्षित रहा, कोरोना का बेहतरीन प्रबंधन रहा, इसी की बदौलत भारत विश्व स्वास्थ्य संगठन का कार्यकारी अध्यक्ष बना।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में यूरोपीय देश बिखर गये, जहाँ संसाधन अधिक हैं और लोग कम हैं, लेकिन हमारे देश में संसाधन कम हैं और लोग ज्यादा हैं, ऐसी स्थिति में  भी प्रधानमंत्री मोदी अपील पर देश ने सफलतापूर्वक लाॅकडाउन का पालन किया, जो दुनियाभर में ऐतिहासिक निर्णय साबित हुआ है, जिसकी सराहना दुनियाभर के देशों ने की।

डाॅ. पूनियां ने सम्बोधित करते हुए कार्यकर्ताओं एवं आमजन से सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करने की अपील की और कहा कि मास्क लगायें, समय-समय पर हाथ धोयें, पर्यावरण की सुरक्षा के लिए पेड़ लगाना जरूरी है, इसलिये पेड़ लगायें, उनका ध्यान रखें।

यह भी पढ़ें :  '...तभी समझ गया था कि हमारी सरकार बनेगी':राहुल गांधी

राज्य सरकार पर निशाना साधते हुये डाॅ. पूनियां ने कहा कि शूरवीर  महाराणा प्रताप से संबंधित इतिहास से स्कूलों के पाठ्यक्रम में छेड़छाड़ की जा रही है, ऐसा करने से महाराणा प्रताप जैसे शूरवीर की शौर्यता कम नहीं होगी, लेकिन इससे कांग्रेस की ओछी मानसिकता के बारे में प्रदेश की जनता जान चुकी है।

उन्होंने कहा कि देश के हर वर्ग को जनकल्याणकारी योजनाओं से सम्बल दे रहे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशभर में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 10 करोड़ आवास निर्माण करवाये और राजस्थान में 15 लाख आवास स्वीकृत हो चुके हैं, जिनमें से 9 लाख तैयार हो गये।

बस्सी एवं कानोता के कार्यक्रमों में डाॅ. सतीश पूनियां के साथ दौसा सांसद जसकौर मीणा, जयपुर देहात दक्षिण जिलाध्यक्ष रामानन्द गुर्जर, भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष अशोक सैनी, पूर्व विधायक कन्हैयालाल मीणा, पूर्व विधायक अतर सिंह भड़ाना, भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश महामंत्री राकेश गुर्जर, भारतीय जनता युवा मोर्चा जयपुर के जिलाध्यक्ष अंकित चेची, भारतीय जनता युवा मोर्चा जिला उपाध्यक्ष हरिओम शर्मा इत्यादि मौजूद रहे।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने रविवार को ट्वीट कर सूरतगढ़ में नसबंदी के दौरान शारदा देवी और संतोष देवी की मौत को लेकर राज्य सरकार पर निशाना साधा था, निष्पक्ष जाँच कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की थी, जिसके बाद राज्य सरकार हरकत में आई और अब इस मामले की जाँच हेतु जयपुर एवं बीकानेर से टीमें सीएचसी सूरतगढ़ पहुँची।

उल्लेखनीय है कि भाजपा प्रदेशाध्यक्ष के निर्देश पर श्रीगंगानगर के सांसद, जिलाध्यक्ष, सूरतगढ़ के विधायक, पूर्व विधायक एवं पार्टी के अन्य पदाधिकारियों ने रविवार को धरना देकर पीड़िताओं के परिजनों को न्याय दिलाने की मांग की।

यह भी पढ़ें :  CM अशोक गहलोत को नहीं है अपने किसी मंत्री-विधायक पर भरोसा

शहीदों का अपमान करना कांग्रेस की पहचान बन गई है

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने पुलवामा शहीद हेमराज मीणा की स्मृति में किये जा रहे विकास कार्यों में अडंगा लगाने और काम रूकवाने के लिए स्थानीय कांग्रेस विधायक की निंदा करते हुए राज्य सरकार से मामले में हस्तक्षेप करने का आग्रह किया। 

डाॅ. पूनियां ने राज्य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि एक ओर जहाँ केन्द्र की मोदी सरकार शहीदों के सम्मान में उनकी मूर्ति लगाने, उनकी स्मृति में विकास कार्य कराने में सहयोग कर रही है।

राजस्थान में कांग्रेस सरकार के एक विधायक पुलवामा हमले में शहीद हुए हेमराज मीणा की स्मृति में किये जा रहे विकास कार्यों में रोड़ा अटका रहे हैं। 

डाॅ. पूनियां ने कहा कि शहीदों का अपमान कांग्रेस की पहचान-सी बन गई है। देश में आतंकवादियों का महिमामंडन करना और शहीदों का अपमान करना यही कांग्रेस की पहचान रही है।

और तो और देश के लिए मर मिटने वाले शहीदों के शव उनके घर तक नहीं पहुँचते थे, केवल मात्र सूचना देकर इतिश्री कर ली जाती थी।

तथा 1999 की एनडीए सरकार से पहले शहीद हुए सैनिकों की एवं उनके परिवारजनों की कोई सुध नहीं ली जाती थी, वहीं अटल की सरकार आने के बाद शहीदों की याद में उनके स्थानीय क्षेत्र में मूर्ति लगाना, उनके नाम पर विकास कार्य एवं गाँव में शहीद के नाम से स्कूलों और काॅलेजों का नाम रखना, उनके परिवारों की आर्थिक रूप से दी जाने वाली मदद की राशि को बढ़ाया, उनकी वीरांगनाओं, बच्चों, माता-पिता के नाम जमीन/कृषि योग्य भूमि एवं पेट्रोल पम्प देने जैसे काम शुरू हुए। 

डाॅ. पूनियां ने राजस्थान सरकार से मांग करते हुए कहा कि पुलवामा शहीद हेमराज मीणा की स्मृति में चल रहे विकास कार्य तुरन्त प्रभाव से पूर्ण करवाये जायें एवं शहीद की मूर्ति की स्थापना कर शहीद हेमराज मीणा को सम्मान प्रदान किया जाये।