रचनात्मक सहयोग कैसे किया जाता है, यह राजस्थान भाजपा टीम ने साबित किया है: PM नरेन्द्र मोदी

-जनता के सुख-दुःख में कंधे से कंधा मिलाकर कैसे खड़ा रहा जाता है, यह राजस्थान भाजपा ने कर दिखाया है: पीएम मोदी
-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मजबूत नेतृत्व में भारत ने कोरोना के खिलाफ मजबूती से लड़ी लड़ाई: जे.पी. नड्डा


-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल प्रबन्धन से दुनिया को मिली नई दिशा एवं दृष्टि: जे.पी. नड्डा


-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा से प्रदेशभर में भाजपा ने किये सेवा कार्य और नवाचार: डाॅ. सतीश पूनियां


जयपुर।

‘सेवा ही संगठन’ कार्यक्रम को वीडियो काँफ्रेंसिंग के माध्यम से राजस्थान, कर्नाटक, असम, महाराष्ट्र, बिहार, दिल्ली एवं उत्तर प्रदेश भाजपा इकाईयों को सम्बोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि हम सत्ता में हो या विपक्ष में रचनात्मक सहयोग कैसे किया जाता है, जनता के सुख-दुःख में कंधे से कंधा मिलाकर कैसे खड़ा रहा जाता है, यह राजस्थान की भाजपा इकाई ने बताया है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के द्वारा दी गई जानकारी से मुझे भी कई बातें मेरे ध्यान में आईं, जो कि प्रेरणास्पद है एवं उत्तम उदाहरण है और इसके लिए भाजपा राजस्थान की टीम को बधाई देता हूँ।

मोदी ने सम्बोधित करते हुए कहा कि इस महामारी काल में एक बहुत बड़ी लड़ाई राजनैतिक दल होने के नाते हमने लड़ी है।

हम सब कार्यकर्ता बधाई के पात्र हैं और इस महामारी की लड़ाई में सहयोग करने वाले समाजसेवी, सामाजिक संगठन और कोरोना वाॅरियर्स भी अभिनन्दन के पात्र हैं। 

उन्होंने कहा कि देशभर में भाजपा द्वारा किये गये सेवा कार्य एवं नवाचारों का बूथ स्तर तक डिजिटल संग्रहण होना चाहिए एवं इसके लिए एक एडिटाॅरियल बोर्ड बनाकर विभिन्न आयामों, सेवा कार्यों का स्थानीय भाषा सहित तीन भाषाओं में भी प्रकाशन होना चाहिये।

उन्होंने कहा कि 25 सितम्बर तक देशभर की सभी भाजपा इकाईयों को यह डिजिटल संग्रहण करने का आहृान किया है। 

मोदी ने कहा कि इस कोरोना काल के आफत के समय को भी हमने अवसर के रूप में बदला है और भाजपा ने अपने आपको डिजिटल एडिशन में परिवर्तित कर लिया है।

हमारा संगठन चुनाव जीतने की मशीन नहीं है, हमारे लिए संगठन का मतलब है सेवा, सबका साथ, सबका सुख, समाज हित में कार्य और संघर्ष करना। हमारे लिए राष्ट्र प्रथम है और राष्ट्रहित के भाव को स्थापित करने में हमारी कई पीढ़ियाँ खप गई।

हमारे पूर्वगामियों की तपस्या से ही हमको यह सब मिला है, तो हमारे काम और मेहनत का फल आने वाली पीढ़ियों को मिलेगा। 

उन्होंने कहा कि इस महामारी में भाजपा ने समाज के सभी वर्गों के बीच में जाकर सेवा कार्य किया है। दलितों और वंचितों को सशक्त करने का प्रयास किया है और हमारी स्वीकार्यता का ही परिणाम है कि आज भाजपा के 52 दलित सांसद हैं, 45 आदिवासी सांसद, तो वहीं अन्य पिछड़ा वर्ग के 113 से अधिक सांसद हैं। 

यह भी पढ़ें :  video: पास-फेल करने के लिए कॉलेज कॉपियां बदलने का ऐसे करते हैं खेल

मोदी ने कहा कि राजनीति का मूल स्वभाव स्पर्धा होता है लेकिन भाजपा सेवा में स्पर्धा देखती है और यह समान भाव से सेवा का काम संगठन की शक्ति बन जाता है और व्यक्ति का विकास व व्यक्तित्व का विकास हमारी मूल अवधारणा है।

उन्होंने कहा कि इस महामारी में समाज ने भी कंधे से कंधा मिलाकर हमारे संगठन का साथ दिया। समाज ने हमको ‘स्नेह’ भी दिया, ‘सामान’ भी दिया और ‘सम्मान’ भी दिया।

मोदी ने सभी कार्यकर्ताओं को संदेश देते हुए कहा कि हमें आजीवन सात ‘स’ का ध्यान रखना चाहिए- सेवा भाव, सन्तुलन, समर्पण, समन्वय, सकारात्मकता, सद्भावना, संवाद, ये सातों ‘एस’ हमें समाज जीवन में सफल होने में सहायता करेंगे।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने ‘सेवा ही संगठन’ कार्यक्रम को वीडियो काँफ्रेंसिंग के माध्यम से सम्बोधित करते हुए कहा कि विश्व की महान शख्सियत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मजबूत नेतृत्व में भारत ने मजबूती से कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ी, जिसकी प्रशंसा विश्व स्वास्थ्य संगठन एवं संयुक्त राष्ट्र संघ के साथ-साथ दुनियाभर के सभी देशों ने की है। 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने जिस कुशल प्रबन्धन से देश को कोरोना काल में सम्भाले रखा, उससे दुनिया को नई दृष्टि एवं दिशा मिली है। एक राजनैतिक दल के रूप में भारतीय जनता पार्टी ने समाज में भागीदारी निभाते हुए जो जनसेवा की है, वो काबिले तारीफ है। मैं देशभर में भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा किए गए जनसेवा कार्यों के लिए उन्हें बधाई देता हूँ।

नड्डा ने कहा कि कोरोना के साथ लड़ाई कैसे लड़ी जायें, समस्याओं का समाधान कैसे हो सरकार और हमारी पार्टी के लिए बड़ा चैलेंज था, परन्तु प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में लाॅकडाउन को सफल बनाया गया और भारतीय जनता पार्टी ने करोडों लोगों की जनसेवा कर एक नया इतिहास बनाया है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में भारतीय जनता पार्टी ने कोविड-19 काल में 4 हजार वीडियो काँफ्रेंस के माध्यम से 2.50 लाख कार्यकर्ताओं तक संवाद किया, 700 ऑडियो ब्रिज के माध्यम से 70 लाख कार्यकर्ताओं से संवाद किया और ‘फीड द नीडी’ जनसेवा के कार्यक्रम के जरिये 22 करोड भोजन के पैकेट और 5 करोड़ मोदी राशन किट बाँटे, 5 करोड फेस कवर वितरित किये गये, जिसमें महिला मोर्चा और महिला मण्डल के साथ-साथ तमाम सामाजिक संस्थाओं का सहयोग मिला।

हमारी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने 3 लाख 90 हजार बुजुर्ग लोगों तक दवाई पहुँचाने का काम किया। 58 लाख कार्यकर्ताओं ने पीएम केयर्स फण्ड में बढ़-चढ़कर योगदान दिया। पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बूथ स्तर तक जनजागरण का काम किया।

यह भी पढ़ें :  पायलट के सामने निवाई विधानसभा के कांग्रेसी दावेदारों के समर्थक भिड़े

देशभर के आदिवासी अंचलों में पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा भोजन की व्यवस्था करवाई गई, प्रवासी मजदूरों को अपने-अपने स्थानों तक पहुँचाया गया। 
उन्होंने राजस्थान भारतीय जनता पार्टी के जनसेवा कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि जरूरतमंदों को भोजन, राशन और चरणपादुका अभियान के जरिये हरसम्भव मदद पहुँचायी गई। 

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का अभिनन्दन करते हुए कहा कि स्वामी विवेकानंद की पुण्यतिथि है, सेवा परमो धर्म की आपने बात की और आपकी इस प्रेरणा से हमने प्रदेशभर के 52 हजार बूथों तक कोरोना काल में सेवा कार्य किये। 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में इस दौरान हम वर्चुअल जनसंवाद के जरिये 24 लाख कार्यकर्ताओं से जुड़े, प्रदेशभर में 615 सामुदायिक रसोईयों के माध्यम से 1करोड़ 90 लाख लोगों तक भोजन पहुँचाने का काम किया, 91 लाख फेस मास्क वितरित किए गए, पीएम केयर में 2 लाख 65 हजार से अधिक लोगों ने सहयोग दिया। 

जोधपुर के एक नवविवाहित जोड़े की सराहनीय पहल का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इन्होंने 4 लाख रूपये पीएम केयर्स फण्ड में योगदान दिया। ‘नर सेवा-नारायण सेवा’ को ध्येय बनाकर 5 लाख प्रवासियों को भोजन, राशन, चरणपादुका, उनको अपने स्थानों तक पहुँचाने के लिए आवागमन के साधनों की व्यवस्था करवायी गई।

साथ ही स्टेशन, बस स्टैण्ड पर भी यात्रियों के लिए भोजन और पानी की व्यवस्था लगातार जारी रखी। प्रदेशभर में जहाँ लोगों को मदद की जरूरत पड़ी वहाँ हमारे कार्यकर्ता हर समय मौजूद रहे।

हमारी पार्टी द्वारा प्रदेशभर में 44 हजार बूथों पर कोरोना योद्धा के रूप में सेवायें देने वाले डाॅक्टर्स, चिकित्साकर्मी, सफाईकर्मी, पुलिसकर्मी का पुष्प वर्षा कर, साफा पहनाकर एवं श्रीफल देकर सम्मान किया गया। 

डाॅ. पूनियां ने कहा कि 6 अप्रैल को पार्टी के स्थापना दिवस पर झोपड़ी से लेकर मकानों तक प्रदेशभर में पार्टी का झण्डा लगाकर एवं पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा उपवास रख कर पार्टी का स्थापना दिवस मनाया गया।

14 अप्रैल को डाॅ. भीमराव अम्बेड़कर जी की जयंती के अवसर पर 5 हजार बस्तियों में जाकर राशन सामग्री वितरित कर दलितों को सम्बल दिया। उन्होंने कहा कि कोरोना काल के शुरूआत में प्रदेश में राशन वितरण में भेदभाव की शिकायतें मिल रही थी, ऐसे में 33 जिलों में 277 ज्ञापन दिये गये, जिसके बाद राज्य सरकार हरकत में आई और सुव्यवस्थित तरीके से राशन वितरण शुरू हुआ।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में मीडिया का हमें सकारात्मक सहयोग मिला, जो लगातार जारी है। इसके लिए मैं प्रदेशभर के मीडिया को धन्यवाद देता हूँ। 

डाॅ. पूनियां ने कहा कि सोशल मीडिया का जनसंवाद एवं समस्याओं के समाधान के लिए बेहतर उपयोग किये, जिससे हमें सकारात्मक परिणाम मिले।

यह भी पढ़ें :  शाहीन बाग धरने के लिए महिलाओं और बच्चों को आप-कांग्रेस ने 36 करोड़ रुपए का खर्चा दिया है: ईडी

उन्होंने कहा कि हमारी संस्कृति में पुरखों का अस्थि विसर्जन किया जाता है और हमने प्रदेश के 285 परिवार के पुरखों की अस्थि विसर्जन कारवाई, इस हेतु हमने आवागमन के साधन उपलब्ध करवाये और उनके भोजन की व्यवस्था भी की।

पशु पक्षियों के दाना-पानी की व्यवस्था हेतु प्रदेशभर में पार्टी के ओबीसी एवं किसान मोर्चा द्वारा  3 लाख परिण्डे लगाये गये, गायों के लिए हरे चारे की व्यवस्था करवायी और युवा मोर्चा ने बड़ी भूमिका निभाते हुए रक्तदान किया एवं जरूरत पड़ने पर रक्तदान करने हेतु कार्यकर्ताओं की सूची भी उपलब्ध करवायी।

हमारी पार्टी की हैल्पलाइन नं. पर 50 हजार काॅल्स आये, इनमंे से ज्यादातर समस्याओं का समाधान किया। नवाचार करते हुए प्रमुख नेताओं के 40 फेसबुक लाइव कार्यक्रम करवाये गये, जिसमें पार्टी की रीति-नीति और राष्ट्रीय विचारों को पार्टी कार्यकर्ताओं एवं आमजन तक पहुँचाया गया, जिसमें 24 लाख लोगों ने जुड़कर अपनी भागीदारी निभाई। 

उन्होंने कहा कि उŸार प्रदेश के जालोन जिले के एक व्यक्ति ने ट्विटर पर प्रधानमंत्री जी को टैग किया, जिसकी जानकारी हमें मिली की उनका परिवार  लाॅकडाउन के दौरान जयपुर में था, जिन्हें भोजन की जरूरत थी, तो ऐसे में हमारे कार्यकर्ताओं ने उनको भोजन एवं आवश्यक सामग्री उपलब्ध करवायी।

लाॅकडाउन के दौरान जब कोई कुष्ट आश्रमों में जाने की हिम्मत नहीं कर रहा था, तो हमारे पार्टी के कार्यकर्ताओं ने आगे बढ़कर कुष्ट आश्रमों में पहुँचकर कुष्ट रोगियों को भोजन, दवाई एवं अन्य उपयोगी वस्तुएं पहुँचायी। 

उन्होंने कहा कि भाजपा नारांे की नहीं सरोकारों की पार्टी है, जिसको हमने कोरोना काल में और इससे पहले भी जनसेवा कार्यों से साबित कर दिखाया है।

इस अवसर पर दिल्ली से भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह एवं केन्द्रीय नेतृत्व के वरिष्ठ नेता एवं पदाधिकारी मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन दिल्ली से राष्ट्रीय महामंत्री भूपेन्द्र यादव ने किया।

भाजपा प्रदेश कार्यालय में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां, प्रदेश महामंत्री (संगठन) चन्द्रशेखर, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़, केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. अरूण चतुर्वेदी, अशोक परनामी, प्रदेश उपाध्यक्ष एवं नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद राजेन्द्र गहलोत, प्रदेश महामंत्री भजनलाल शर्मा, अभिषेक मटोरिया, कैलाश मेघवाल, वीरमदेव सिंह जैसास, प्रदेश मंत्री मुकेश दाधीच, सांसद कनकमल कटारा, सी.पी. जोशी, प्रदेश मीडिया प्रभारी विमल कटियार, प्रदेश मीडिया सह-प्रभारी नीरज जैन, भाजयुमो प्रदेशाध्यक्ष अशोक सैनी, प्रदेश प्रवक्ता लक्ष्मीकान्त भारद्वाज, आई.टी. विभाग के प्रदेश सह-संयोजक हीरेन्द्र कौशिक, रेसी शर्मा, प्रदेश कन्ट्रोल रूम प्रभारी सुमन सिंह राजपुरोहित, राजेन्द्र सिंह शेखावत, कोटा सम्भाग प्रभारी हेमराज मीणा उपस्थित रहे।