“35 करोड़ में विधायक क्यों खरीदेंगे, इतने में तो पूरी कांग्रेस ही खरीद लेते”

-“राजस्थान जनसंवाद रैली” का तीसरा चरण : तीन केंद्रीय मंत्रियों ने लिया भाग, भाजपा अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां के तीखे हमले।

जयपुर।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने कांग्रेस और अशोक गहलोत पर तीखा हमला करते हुए कहा है कि 35 करोड़ रुपए में विधायक क्यों खरीदेंगे, इतने पैसे में तो पूरी कांग्रेस पार्टी ही खरीद लेंगे।

डॉ. पूनियां भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में आयोजित जन संवाद रैली को संबोधित कर रहे थे उन्होंने अशोक गहलोत के आरोपों पर पलटवार किया और कहा कि जितने पैसे के गहलोत आरोप लगा रहे हैं, उतने में तो पूरी कांग्रेस पार्टी खरीदी जा सकती है।

प्रदेश भाजपा कार्यालय में शनिवार को राजस्थान जनसंवाद रैली का तीसरा चरण आयोजित किया गया। रैली में भाग लेने के लिये भारत सरकार के तीन केंद्रीय मंत्री जयपुर पहुंचे। जिनमें केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल, गजेंद्र सिंह शेखावत और कैलाश चौधरी ने मुख्य अतिथि के तौर पर कार्यक्रम में शिरकत की।

बता दें कि “राजस्थान जनसंवाद रैली” के तीसरे चरण में कोटा, अजमेर और उदयपुर संभाग के भाजपा कार्यकर्ता सोशल मीडिया के माध्यम से आनलाइन इस रैली से जुड़े।

जयपुर स्थित प्रदेश भाजपा कार्यालय से आयोजित हुई इस रैली में भाजपा के विधायक, सांसद व नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद राजेन्द्र गहलोत सहित कई वरिष्ठ कार्यकर्ताओं ने भी भाग लिया।

“राजस्थान जनसंवाद रैली” में धौलपुर से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के संबोधन को सुना।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुये भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि भाजपा की इस वचुर्अल रैली में कोटा,अजमेर और उदयपुर संभाग के कार्यकर्ता शामिल हुये हैं।

यह भी पढ़ें :  विधानसभा सत्र शुरू होने से 1 दिन पहले 30 आईएएस अधिकारियों के तबादले, जानिए किसको कहां लगाया है

पूनिया ने राजस्थान कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुये कहा कि 35 करोड़ में तो पूरी कांग्रेस पार्टी को ही खरीदा जा सकता है। कांग्रेस की सियासत, तिकड़मबाजी और बदनीयती जनता देख रही है।

पूनिया ने कहा कि कांग्रेस द्वारा आरोप लगाया जा रहा है कि केंद्र सरकार भेदभाव करती है, मदद नहीं करती है इस पर उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने जनता के हित में कई कार्य किये हैं। इतना ही कई अहम मुद्दों का भी समाधान किया है जिनकी प्रशंसा चोरओर हो रही है।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने अपने संबोधन में कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के संकट से पूरा विश्व जूझ रहा है लेकिन भारत ने इस मुकाबले का जिस तरह से सामना किया है उसके लिये मैं सभी को धन्यवाद देता हूं।

गडकरी ने कहा कि इस संकट की किसी ने भी उम्मीद नहीं की थी, कि एक ऐसे संकट का सामना करना पड़ेगा, यह एक चुनौती है, जो हमारे सामने खड़ी है, इसका हमें सामना करना है।

गडकरी ने कहा कि पूरे विश्व के वैज्ञानिक वैक्सीन की खोज में जुटे हैं लेकिन वह दिन दूर नहीं जब हम इस वैक्सीन की खोज कर लेंगे। तब तक हमें कोरोना संक्रण से बचाव वाले नियमों की पालना करनी है।

वीरों की भूमि है राजस्थान

उन्होंने कहा कि हमारे देश में यह कोई पहना संकट नहीं है। इससे पहले भी हमारे देश ने कई संकट देखे हैं। गडकरी ने राजस्थान का जिक्र करते हुये कहा कि राजस्थान की भूमि वीरों की भूमि है। राजस्थान के पूर्वजों ने इतिहास को बचाने के लिये अपने प्राणों की आहूति दी है।

यह भी पढ़ें :  थानाधिकारी की आत्महत्या के मामले में हनुमान बेनीवाल ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मांगा इस्तीफा!

6 साल काफी गौरवशाली हैं

गडकरी ने कहा कि इतिहास खून, संघर्ष और बलिदान से लिखा जाता है। पाकिस्तान से तीन बार लड़ाई हो चुकी है तो वहीं चीन से भी एक बार लड़ाई चुकी है और जीत भारत की हुई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के 55 साल और मोदी के 6 साल के कार्यों की तुलना की जाये तो यह 6 साल गौरवशाली का इतिहास है।