15 साल के बच्चे को थी गर्दन की गंभीर बीमारी, डॉक्टर ने ऐसा किया कमाल

जयपुर

15 साल का बालक भारत कुमार, जिसके बाएं हाथ और बाएं पैर में तकलीफ की थी, गर्दन में दर्द था। इसके परिजनों ने मुझे दिखाया।

सीटी स्कैन और एमआरआई करने के बाद ऑपरेशन के अलावा दूसरा चारा मुझे दिखाई नहीं दिया। मैंने परिजनों से ऑपरेशन की गंभीरता के बारे में हर पहलू पर विस्तार से बात की।

उन्होंने मुझपर विश्वास जताते हुए तुरंत हामी भर दी है। एक अनजान डॉक्टर के ऊपर विश्वास जताना और एक ऐसे डॉक्टर के ऊपर विश्वास जताना, जो किसी मरीज के गांव का हो और करीबी हो, इसमें काफी अंतर होता है।

हालांकि मुझे पता था कि इस ऑपरेशन में कितनी गंभीरता थी और सर्जरी के दौरान ही बच्चे की जान भी जाने का खतरा था। लेकिन बच्चा मेरे गांव का था, तो मेरी भावनाएं ज्यादा जुड़ी हुईं थीं।

यह तकरीबन सभी के साथ होता है कि व्यक्ति जब मानवता से देश की तरफ, देश से राज्य की ओर, राज्य से जिले की तरफ और जिले से तहसील ओर होते हुए गांव की तरफ बढ़ता है तो लोगों के साथ उसका भावनात्मक जुड़ाव अधिक होने लगता है, यही मेरे साथ हुआ।

अपने पिछले 11-12 साल के करियर में मैंने ऐसे दो या तीन बार ही ऐसे गंभीर ऑपरेशन किए थे, लेकिन बच्चा मेरे गांव का होने के कारण मुझे किसी भी सूरत में ऑपरेशन करना ही था।

बच्चा न केवल मेरे गांव का है, बल्कि उसके साथ ही परिजन बेहद गरीब स्थिति में हैं और ऐसे ऑपरेशन का खर्चा भी काफी होता है। लेकिन मैंने तय किया कि इस ऑपरेशन के लिए मैं अपनी फीस तो छोड़ो, दूसरा कोई खर्चा भी चार्ज नहीं करके सफलतापूर्वक अंजाम दूंगा।

यह भी पढ़ें :  सभी महापौर प्रत्याशी संघ-भाजपा की पसंद, वसुंधरा गुट को किया दरकिनार

सर्जरी लगभग 7 घंटे चली। मैंने यह ऑपरेशन लागत से करीब 4 गुना कम दर पर किया। आज मुझे खुशी इस बात की भी है कि मेरे गांव के लोग, मेरे जिले के लोग, मेरे प्रदेश के और देश के लोग जिस विश्वास के साथ मेरे पास उपचार करवाने के लिए आते हैं, उसपर मैं खरा उतरने का प्रयास करता हूं और ऊपर वाले के आशीर्वाद से खरा उतरता हूं।

बच्चे का ऑपरेशन करने के बाद मुझे केवल इस बात का संतोष नहीं है कि मैंने एक मरीज को ठीक करने की कोशिश की, बल्कि उससे बढ़कर मुझे इस बात की भी खुशी है कि एक गरीब परिवार, जो मेरे गांव का है और भावनात्मक तौर पर मेरे से काफी जुड़ा हुआ है, उसके एक सदस्य को नया जीवन देने हेतु भगवान ने मुझे सक्षम बनाया।

ईश्वर से प्रार्थना है कि मानव मात्र की सेवा के लिए मेरे द्वारा किया जाने वाला हर प्रयास सफल हो, इसी उम्मीद के साथ भगवान को कोटि-कोटि धन्यवाद और आप सभी चाहने वालों को सादर नमस्कार…