जयपुर में मकान मालिकों ने माफ कर दिया 1.60 लाख रुपये, सब बेरोजगारों के हैं

-गांधीगिरी से खुश हुए मकान मालिक 1लाख 60 हजार रुपये का किराया बेरोजगारों का किया माफ़।


राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ बैनर तले बुधवार हाथ जोड़कर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले बेरोजगारों का किराया माफ करने का अभियान की शुरुआत ज्योति नगर c-scheme से की।


एडवोकेट पदम सिंह गुर्जर को फूल देकर बेरोजगारों का किराया माफ करने की गुहार की अपील की। एडवोकेट पदम सिंह स्टूडेंटस का 3 महीने का किराया 800000 माफ किया और कहा कि जब तक सामान्य स्थिति नहीं हो जाती तब तक बेरोजगारों से किराया नहीं लेंगे।


टोंक फाटक कल्याण कालोनी निवासी तारा पटेल ने 66000 रुपये का 9 बेरोजगार अभ्यर्थियों का 3 महीने का किराया माफ किया और मुहिम का समर्थन किया।

महेश नगर सर्वोदय कॉलोनी में मोहन लाल मीणा ने 3600 रुपये किराया माफ किया। इसके अलावा इमली फाटक में बेरोजगारो का ₹10000 किराया माफ किया गया।


ऐसे पहले दिन 1 लाख 60 हजार रुपये का बेरोजगारों का किराया माफ किया गया, जिससे कई बेरोजगार अभ्यर्थियों को बड़ी राहत मिली है।


राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के उपेन यादव ने मकान मालिकों से और सरकार से प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले बेरोजगारों का किराया माफ करने की गुहार की है।

इस अभियान में राजस्थान विश्वविद्यालय के एक पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष ने भी भाग लिया और इस अभियान में पूरा सहयोग किया। अध्यक्ष ने इस मामले में ससराहनीय पहल की है।

इस अभियान को पूरे प्रदेश मे टीम बनाकर चलाया जाएगा, जिससे ज्यादा से ज्यादा बेरोजगारों को राहत मिल सके। यह अभियान पूरे प्रदेश में चलाया जाएगा।

Twitter सोशल मीडिया के माद्यम से सरकार तक किराया माफ करने की आवाज बुलंद की जाएगी। बेरोजगार एकीकृत महासंघ के अध्यक्ष उपेन यादव ने कहा है कि लोगों को आगे आकर किराया माफ करना चाहिए।

यह भी पढ़ें :  वसुंधरा से दूरियां, डॉ. सतीश पूनियां से नजदीकियां, आखिर क्या मंत्र है राठौड़ का?