विश्वविद्यालयों-महाविद्यालयों की परीक्षा नहीं होगी, किया जाएगा प्रमोट

नेशनल दुनिया, जयपुर।

राजस्थान के सभी विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में परीक्षाएं नहीं होगी। विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में पढ़ने वाले छात्रों को बिना परीक्षा के प्रमोट किया जाएगा।

राजस्थान सरकार ने तय किया है कि विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में पढ़ने वाले छात्र छात्राओं को परीक्षा दिए बिना ही अगली कक्षाओं में प्रमोट किया जाएगा।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने देर रात 11:00 बजे ट्वीट करके कहा है कि विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में फर्स्ट ईयर और सेकंड ईयर के स्टूडेंट्स को बिना परीक्षा के प्रमोट किया जाएगा, फाइनल ईयर के विद्यार्थियों को परीक्षा देनी होगी।

IMG 20200603 WA0004

इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि इस नाटक के अंतिम वर्ष के छात्र-छात्राओं और स्नातकोत्तर के अंतिम वर्ष के छात्र छात्राओं को परीक्षा देनी होगी। स्नातकोत्तर के प्रथम वर्ष के छात्र छात्राओं और स्नातक के प्रथम व द्वितीय वर्ष के छात्र छात्राओं को बिना परीक्षा के अगली कक्षाओं में प्रमोट किया जाएगा।

अशोक गहलोत ने अपने ट्वीट को तीन हिस्सों में बांटते हुए यह भी जानकारी दी है कि बाद में परिस्थितियां अनुकूल होने पर स्नातक प्रथम वर्ष द्वितीय वर्ष और स्नातकोत्तर के प्रथम वर्ष के छात्र छात्राओं की परीक्षा ली जाएगी।

हालांकि इसके साथ ही उन्होंने परिस्थितियों का हवाला दिया है। यदि जुलाई अगस्त या सितंबर तक परिस्थितियां अनुकूल नहीं होती है तो ऐसी स्थिति में स्नातक प्रथम व द्वितीय वर्ष और स्नातकोत्तर प्रथम वर्ष की परीक्षाएं नहीं होंगी।

यह भी पढ़ें :  एक साथ 52 दिव्यांग जोड़ों की बनाई गई विवाह बेदी