विफल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपनी विफलता का ठीकरा कहां फोड़ रहे हैं?

डाॅ. पूनियां ने एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा रेल मंत्री पीयूष गोयल पर की गई टिप्पणी का जवाब देते हुए कहा कि प्रदेश की सरकार चलाने में अशोक गहलोत पूरी तरह से विफल हो चुके है।

कोरोना महामारी की रोकथाम एवं लाॅकडाउन के दौरान सरकारी निर्देशों की पालना कराने में उनका प्रशासन पूरी तरह फेल हो चुका है।

इसलिए वो अपनी विफलता का ठीकरा बयानों के जरिये केन्द्र सरकार पर फोड़ना चाहते है। पीयूष गोयल ने तो रेल के जरिये 50 लाख लोगों को उनके घरों तक पहुँचाया है।

लेकिन 4 हजार बस होने का दावा करने वाले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के शासन वाले राज्य की सारी सड़कों पर भूखे-प्यासे प्रवासी तो पिछले डेढ़ महीने से भटक रहे है।

चन्दे का धन्धा चलाना कांग्रेस का पूराना काम है। इसलिए अब जब यह धंधा बंद हो रहा है तो यह बौखला रहे हैं।

यह भी पढ़ें :  नर्स ग्रेड द्वितीय और जीएनएम भर्ती के लिए वेटिंग लिस्ट जारी, देखिए यहां पर