194 मौत, 8693 पॉजिटिव, टिड्डी दल से बर्बाद हुए इस राज्य में इसी रफ्तार से बढ़ रही है महामारी

नेशनल दुनिया, जयपुर।

राजस्थान में 194 लोगों की मौत हो चुकी है। 8693 लोग पॉजिटिव है। टिड्डी दल के कारण पहले से ही राजस्थान में किसान बर्बादी की कगार पर खड़े हैं, लेकिन यहां पर कोरोनावायरस के मरीजों के बढ़ने की रफ्तार ज्यों कि त्यों है।

राजस्थान में एक जून से बहुत सारी चीजों में छूट देने का फैसला किया गया है। हालांकि रात के कर्फ्यू को लेकर अभी भी कहा जा रहा है कि किसी भी तरह की छूट नहीं दी जाएगी रात का कर्फ्यू जारी रहेगा।

पूरे देश की तरह राजस्थान में भी 8 जून से सिनेमा हॉल, मॉल, स्कूल, फैक्ट्रियां और तमाम सरकारी और प्राइवेट कार्यालय पूरी तरह से खोले जाने की अनुमति दी जा चुकी है।

राजस्थान की राजधानी जयपुर, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह जिले जोधपुर, यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल के गृह जिले कोटा, आदिवासी क्षेत्र कहे जाने वाले डूंगरपुर, राजस्थान का पूर्वी द्वार कहे जाने वाले भरतपुर, राज्य में कोरोनावायरस को नियंत्रित किए जाने के कारण रोल मॉडल बताए जाने वाले भीलवाड़ा समेत राजस्थान के सभी 33 जिलों में कोरोनावायरस लगातार बढ़ता जा रहा है।

यह भी पढ़ें :  77 बच्चों की मौत का कोटा अस्पताल खुद ही बीमार है