जिशान अली ने 10 साल की अपनी ही सगी बहन से 3 दोस्तों के साथ गैंगरेप कर उसके शव को गाढ़ दिया

नेशनल दुनिया, जयपुर।

अपनी सगी 10 साल की मासूम दिव्यांग बहन के साथ जीशान अली नामक सगे भाई ने अपने 3 दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप कर डाला। आरोपी चारों को पुलिस ने हत्या की वारदात का पर्दाफ़ाश करते हुए दबोच लिया है।


एडिमन एसपी सुलेश चौधरी ने खुलासा करते हुए बताया कि सबसे पहले भाई जिशान ने बहन का रेप किया। उसके बाद बारी-बारी से उसके 3 दोस्तों ने मासूम को हवस का शिकार बनाया। इतना ही नहीं, अपितु रेप करने के बाद बहन की गला दबाकर हत्या कर दी।


बहन चीख़ती रही, फिर भी भाई का नहीं पसीजा दिल

रेप करने वाले जीशान अली, साजिद अली, वाजिद अली और अहमद अली ने बताया कि जब वह लोग गैंगरेप कर रहे थे, तब मासूम लड़की चिल्ला रही थी और उनको छोड़ने के लिए हाथ जोड़ रही थी, लेकिन किसी ने भी उस पर रहम नहीं किया।


हत्या करने के बाद बहन के शव को खाई में फैंका

चारों दरिंदों ने पहले मासूम के साथ रेप करके अपनी हवस की प्यास बुझाई। फिर गला दबाकर उसकी हत्या की। उसके बाद भी उनका दिल नहीं पसीजा और आखिरकार उसको पहाड़ियों की खाई में फेंक दिया।


बच्ची के सभी कपड़े पहाड़ी पर ज़मीन में दबाए, हत्या की वारदात को अंजाम देने में परिवार भी शामिल

पुलिस ने बताया कि बच्ची के शव को पहाड़ी की खाई में जानवरों के खाने के लिए फेंक दिया और उसके कपड़े वहीं पर गड्ढा खोदकर उसमें दबा दिया। सारे मामले में जानकारी होने के बावजूद जीशान अली के परिवार ने सहयोग किया और उसका बचाव किया।

यह भी पढ़ें :  तीन बार की मिस वर्ल्ड डाइवर्सिटी ने स्टूडेंट्स से किया इंटरेक्ट


पुलिस को किया गुमराह, परिवार ने बच्ची की गुमशूदगी की दर्ज कराई रिपोर्ट

पुलिस ने बताया कि आरोपी के परिजनों ने ही उनको बचाने का प्रयास किया। जानकारी होने के बावजूद बच्चे की गुमशुदगी की फर्जी रिपोर्ट दर्ज करवाई।
आरोपियों में भाई ज़िशान, दोस्त साजिद, वाहिद और अहमद हैं। पूछताछ में भाई समेत चारों आरोपियों ने हत्या की वारदात कबूल कर ली।


गैंगरेप और हत्या की वारदात को सुन पुलिस की रह गई दंग


जानकारी के मुताबिक 17 मई को मनोहरपुर थाना इलाक़े के तोड़ी गाँव की यह घटना है। सघन अभियान चलाकर पुलिस ने 21 मई को खाई में से बच्ची का शव ढूंढ निकाला।

मूलत उत्तर प्रदेश के बरेली हाल धाबाई ईंट भट्टा टोडी, मनोहरपुर निवासी शाजिद अली (19) पुत्र हामिद अली, अमजद अली (19) पुत्र जाहिद अली, वाजिद अली (20) पुत्र हामिद अली, जीशान अली (20) को गिरफ्तार किया है।