पुलिस के कर्तव्यनिष्ठ अधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई द्वारा आत्महत्या करना एक गम्भीर घटना, निष्पक्ष जांच हो: डॉ. सतीश पूनियां

-संपूर्ण प्रकरण की स्वतंत्रत, निष्पक्ष, तथ्यात्मक और गहन जांच होकर सामने आनी चाहिए: डॉ. सतीश पूनियां
-भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. पूनियां ने राजेन्द्र राठौड़ एवं राहुल कस्वां को भेजा राजगढ़
-ओम प्रकाश सैनी हत्या प्रकरण में दोषियों के खिलाफ हो सख्त कार्रवाई: डॉ. सतीश पूनियां
-समाजसेवी एवं भाजपा नेता जुगल किशोर तावणीया ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां को सौंपा 11 लाख रुपये का चेक

जयपुर, 23 मई।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने राजगढ़ थानाधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई की आत्महत्या पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

डॉ. सतीश पूनियां ने ने इस गम्भीर घटना की वस्तुस्थिति जांचने के लिए उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ एवं सांसद राहुल कस्वां को राजगढ़ भेजा है।

डॉ. पूनियां ने कहा कि राजस्थान पुलिस के कर्तव्यनिष्ठ अधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई की आत्महत्या एक गम्भीर घटना है और यह हमारी व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह खड़ा कर रही है।

राज्य सरकार को इसकी जांच करवाकर तथ्यों का पता लगाना चाहिए कि ऐसे क्या कारण रहे कि एक थानाधिकारी को आत्महत्या करनी पड़ी।

डॉ. पूनियां ने कहा कि पुलिस में काम करने के दौरान अधिकारियों और कर्मचारियों में काम के दबाव एवं मानसिक तनाव को कम करने के लिए भी राज्य सरकार को सार्थक कदम उठाने की जरूरत है।

इस तरह की घटनायें पुलिस का मनोबल गिराने का काम करती है। इनकी पुनरावृति ना हो इसके लिए प्रदेश सरकार सकारात्मक प्रयास करे।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने ट्वीट किया कि, राजस्थान पुलिस के कर्तव्यनिष्ठ अधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई द्वारा आत्महत्या किया जाना बेहद दुखद है।

पुलिस के लिए एक सबक है कि अधिकारी किस प्रकार तनाव में काम करते हैं, भविष्य में पुनरावृत्ति ना हो विचार किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें :  मध्यप्रदेश में पत्रकार कोरोना पॉजिटिव, राजस्थान में बढ़ी चिंता, सोशल मीडिया पर ऐसे आई प्रतिक्रिया

डॉ. पूनियां ने कहा कि इस समय जब देश और प्रदेश कोरोना संक्रमण काल से गुजर रहा और कोरोना योद्धा के रूप में कार्यरत कर्तव्यनिष्ठ पुलिस निरीक्षक विष्णुदत्त विश्नोई थानाधिकारी राजगढ़ (चूरू) द्वारा आत्महत्या करना समाज, प्रशासन और सरकार के समक्ष प्रश्न चिन्ह खड़ा करता है।

एक कर्तव्यनिष्ठ अधिकारी का यूं चले जाना निराशाजनक है। इस संपूर्ण प्रकरण की स्वतंत्रत, निष्पक्ष, तथ्यात्मक और गहन जांच होकर सामने आनी चाहिए।

राज्य की पुलिस के लिए भी यह एक सबक है कि अधिकारी किस प्रकार तनाव में काम करते हैं, भविष्य में इस प्रकार की घटनाओं की पुनरावृत्ति ना हो इस पर विचार करने की आवश्यकता है।

पुलिस के कर्मचारी-अधिकारी तनाव मुक्त होकर काम करें इसलिए समय-समय पर उनसे संवाद एवं अन्य उपायों के जरिए उनका आत्मविश्वास और मनोबल बनाए रखना चाहिए।

डॉ. पूनियां ने कहा कि, विष्णु दत्त विश्नोई को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं और ईश्वर से उनके परिजनों को संबल प्रदान करने की कामना करता हूं।

वहीं, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. पूनियां ने कहा कि, शाहपुरा की ग्राम पंचायत अमरसर के सरपंच ओम प्रकाश सैनी की गोली मारकर हत्या करना बेहद दुःखद एवं दुर्भाग्यपूर्ण है।

डॉ. पूनियां ने कहा कि मेरा राज्य सरकार से विशेष आग्रह है कि दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करें।

डॉ. पूनियां ने ओम प्रकाश सैनी के निवास स्थान पर पहुंचकर उनकी तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

उन्होंने कहा कि परम-पिता परमात्मा से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को शांति और परिजनों को इस कठिन परीक्षा का सामना करने का साहस प्रदान करे।

यह भी पढ़ें :  विधायक बलवान पूनिया ने अपनी सोने की अंगूठी मुख्यमंत्री राहत कोष में दान दे दी

इसके अलावा शनिवार को पीएम केयर्स फंड में श्रीडूंगरगढ़ (बीकानेर) के समाजसेवी एवं भाजपा नेता जुगल किशोर तावणीया एवं सहयोगियों द्वारा 11 लाख रुपये का चेक भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां को सौंपा गया।

इस दौरान करणीसिंह राजपुरोहित, मोहन पूनिया भी मौजूद रहे। उल्लेखनीय है कि प्रदेशभर से पीएम केयर्स फंड में लोग बढ़-बढ़कर सहयोग कर रहे हैं और सभी जिलों में प्रदेश भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा दो महीने से अधिक समय से राहत कार्य चलाये जा रहे हैं।