राजस्थान के 33 जिलों में से यह जिला सबसे सुरक्षित है, देखिए क्या हैं इसकी खूबियां

नेशनल दुनिया, जयपुर।

राजस्थान प्रदेश में कुल 33 जिले हैं इन 35 जिलों में से एक जिला ऐसा है, जो कोविड-19 की वैश्विक महामारी के बावजूद सुरक्षित बचा हुआ है। पंजाब सीमा से सटा हुआ श्रीगंगानगर सबसे सुरक्षित जिला बना हुआ है।

पूरे राजस्थान के 33 में से 32 जिलों में कोरोनावायरस कहर बरपा रहा है, लेकिन अकेला श्रीगंगानगर ऐसा है, जहां पर अब तक केवल 1 मरीज सामने आया है और वह भी ठीक हो कर घर लौट चुका है।

श्री गंगानगर जिले की भौगोलिक स्थिति की बात की जाए तो यह जिला एक तरफ पाकिस्तान, राजस्थान और एक तरफ पंजाब और हरियाणा की सीमा से लगता है।

पाकिस्तान में भी कोरोनावायरस के खूब मरीज मिले पंजाब में भी बड़े पैमाने पर कोरोनावायरस फैला हुआ है। राजस्थान में कोरोना वायरस के करीब 6300 मरीज सामने आ चुके हैं।

इसके बावजूद जिला अभी तक पूरी तरह से सुरक्षित है। केवल एक मरीज मिला था जो ठीक होकर वापस घर लौट चुका है। जिले के जिला कलेक्टर और एसपी बताते हैं कि उन्होंने कठोरता से कार्य किया। शुरुआती आंकड़े बताते हैं कि सर्वाधिक जुर्माना लगाने का काम श्रीगंगानगर पुलिस ने किया है।

श्रीगंगानगर के अलावा बारां जिला भी तकरीबन कोरोनावायरस सुरक्षित है। हालांकि, यहां पर अब तक 5 मरीज सामने आ चुके हैं। इसके अलावा करौली भी 10 रोगियों के बावजूद ज्यादा प्रभावित नहीं है। लेकिन इनमें से कोई भी श्रीगंगानगर में मुकाबला नहीं कर सकता।

श्री गंगानगर जिले की खूबियों की बात की जाए तो यहां पर राजस्थान, पंजाब और हरियाणा 3 राज्यों की संस्कृति का मिश्रण है। यह जिला राजस्थान के कोटा जिले के साथ गेहूं की सर्वाधिक पैदावार देने वाला जिला है।

यह भी पढ़ें :  CAA के समर्थन में उतरा जनसैलाब, जयपुर, सीकर, बूंदी समेत राजस्थान में कई जगह रैलियां