सांसद हनुमान बेनीवाल ने एकसाथ 4 पत्र लिखकर कई मुद्दे उठाए हैं

-सांसद हनुमान बेनीवाल बोले: केंद्र का पैकेज प्रवासी मजदूरों, रेहड़ी चालकों, किसानों के लिए होगा लाभकारी कदम

-पैदल पलायन कर रहे माइग्रेंट मजदूरों के लिए केंद्रीय गृह मंत्री व गृह सचिव तथा राज्य के मुख्य सचिव को लिखा पत्र व टिड्डी नियन्त्रण को पुनः की केंद्रीय कृषि मंत्री से बात वही राज्य से नागौर में कोविड टेस्ट मशीन उपलब्ध करवाने की मांग।


Delhi/ Jaipur/ Nagaur

नागौर से एनडीए के घटक दल के सहयोगी दल राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी से सांसद हनुमान बेनीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित पैकेज के अंतर्गत गुरुवार को केंद्रीय वित मंत्री निर्मला सीतारमन व वित राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर द्वारा की गई साझा प्रेस वार्ता पर प्रतिक्रिया दी है।

उन्होंने कहा की कोरोना के कहर मे देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने व गाँव, ग़रीब, मजदूर तथा किसान को राहत देने के लिए एक देश एक राशन कार्ड, 25 हजार करोड़ रुपये के नए किसान क्रेडिट कार्ड जारी करने, ठेला (रेहड़ी ) चलाने वाले, पटरी पर सामान बेचने वाले गरीब लोगों के लिए  5 हजार करोड़ रुपये की क्रेडिट स्कीम लाने से बड़ा फायदा मिलेगा।

बेनीवाल ने कहा कि मुद्रा शिशु कर्ज लेने वालों के लिए 1500 करोड़ का लाभ देने के लिए उक्त उक्त योजना के कर्जदारों के लिए 2 प्रतिशत ब्याज भारत सरकार द्वारा वहन करने व आने वाले समय मे गरीब व प्रवासी मजदूरों को कम किराए पर रहने की सुविधा प्रदान करने हेतु  हाउसिंग स्कीम लाने तथा राष्ट्रीय खाध्य सुरक्षा योजना से वंचित 8 करोड़ मजदूरो के लिए 3500 करोड़ रुपये की राशन सामग्री उपलब्ध करवाना क्रांतिकारी कदम साबित होगा।


टिड्डी नियंत्रण के लिए केंद्रीय मंत्री तोमर से माँगे ड्रोन वही पैदल पलायन कर रहे माइग्रेंट मजदूरों को सरकारी वाहनों से गंतव्य तक पहुँचाने के लिए केंद्रीय मंत्री अमित शाह व केंद्रीय गृह सचिव तथा राज्य सरकार के मुख्य सचिव को पत्र लिखा है।

यह भी पढ़ें :  संसद सत्र के बाद कांग्रेस का महाधिवेशन राजस्थान में, राहुल गांधी को सौंपी जा सकती है फिर से कमान


नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने गुरुवार को केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को दूरभाष के मध्यम से तथा ट्वीट करके राजस्थान के नागौर, जोधपुर, बाड़मेर, बीकानेर, गंगानगर, जालोर व जैसलमेर जिले मे टिड्डी नियत्रण के लिए कृषि विभाग को ड्रोन उपलब्ध करवाने की माँग की।

सांसद ने कहा बड़े पेड़ो के उपरी सतह पर टिड्डी नियन्त्रण के लिए ड्रोन अत्यंत आवश्यक है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह तथा गृह सचिव को पत्र लिखकर मजदूरों की हुई सड़क दुर्घटनाओं का हवाला देकर
पैदल पलायन कर चुके माइग्रेंट मजदूरों को सरकारी साधनो से उनके गन्त्वय तक पहुँचाने के लिए राज्यो को निर्देश जारी करने की माँग की।

इस सम्बन्ध में उन्होंने केंद्रीय गृह सचिव, राजस्थान के मुख्य सचिव व राजस्थान के गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव को भी पत्र लिखा है।


सांसद हनुमान बेनीवाल ने नागौर जिला कलेक्टर को पैदल पलायन कर रहे माइग्रेंट मजदूरों को सरकारी साधनों से उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए पत्र लिखा है।

अपने पत्र में सांसद ने नागौर पुलिस अधीक्षक को माइग्रेंट मजदूरों के साथ पुलिस सहित सरकारी कार्मिकों द्वारा किसी प्रकार की बदसलूकी नहीं हो, उसकी सुनिश्चिता करने के निर्देश दिए।

साथ ही उन्होंने राज्य के स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा को पत्र भेजकर नागौर जिला मुख्यालय पर कोरोना की जांच हेतु मशीन उपलब्ध करवाने की मांग की है।

जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को जिले के ग्रामीण आँचल में बढ़ रहे प्रकोप की तरफ ध्यान आकर्षित करते हुए सेम्पलिंग अभियान में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही स्वास्थ्य विभाग को इस आपदा में हर सम्भव मदद का भी भरोसा दिलाया है।

यह भी पढ़ें :  Whatsapp ने जारी किया नया फीचर, जानकर रह जायेंगे आप भी हैरान!