विदेशों में रहने वाले राजस्थानियों की वापसी के लिए मोदी सरकार का बड़ा फैसला

-भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां के आग्रह को मोदी सरकार ने किया स्वीकार
-डॉ. सतीश पूनियां के प्रयास लाए रंग, विदेशों में रहने वाले राजस्थानी आ सकेंगे अपने प्रदेश
-डॉ. सतीश पूनियां ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, विदेश मंत्री एस जयशंकर, विदेश राज्यमंत्री वी मुरलीधन का किया अभिनंदन
-कोरोना से निपटने के मोदी सरकार के प्रयासों की संयुक्त राष्ट्र संघ और विश्व स्वास्थ्य संगठन कर रहा प्रशंसा: डॉ. सतीश पूनियां

जयपुर, 12 मई।

विदेशों रहने वाले राजस्थानियों के हित में मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। अब विदेशों में रहने वाले राजस्थानी अपने प्रदेश वापस आ सकेंगे।


भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां के आग्रह को मोदी सरकार, विदेश मंत्री एस जयशंकर और विदेश राज्यमंत्री वी मुरलीधरन ने स्वीकार कर लिया है, अब विदेश में रहने वाले राजस्थानी अपने प्रदेश लौट सकेंगे।


भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां का कहना है कि प्रवासी राजस्थानियों के हित में यह फैसला लेने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, विदेश मंत्री एस जयशंकर, विदेश राज्यमंत्री वी मुरलीधरन का बहुत बहुत अभिनंदन करता हूं।


डॉ. पूनियां ने कहा कि अब ब्रिटेन, जॉर्जिया, फिलीपीन्स, किर्गिस्तान, रूस, यूक्रेन, कजाकिस्तान, तजाकिस्तान और कनाडा में रहने वाले राजस्थानी अपने प्रदेश पहुंच सकेंगे।


भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. पूनियां का कहना है कि कोरोना से निपटने के लिए मोदी सरकार के प्रयासों की प्रशंसा संयुक्त राष्ट्र संघ और विश्व स्वास्थ्य संगठन कर रहा है।

वहीं भारतवंशियों को बचाने के लिए मोदी सरकार ने पूरी प्रतिबद्धता एवं प्राथमिकता के साथ ‘जान है तो जहान है’ इस लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए कोरोना से लड़ाई लड़ी, पूरा विश्वास है निश्चित ही हम इस लड़ाई को जीतने के करीब हैं।

यह भी पढ़ें :  पुलिस के कर्तव्यनिष्ठ अधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई द्वारा आत्महत्या करना एक गम्भीर घटना, निष्पक्ष जांच हो: डॉ. सतीश पूनियां


उन्होंने कहा कि विभिन्न राज्यों में रहने वाले लोगों को अपने-अपने प्रदेश पहुंचाने के लिए मोदी सरकार ने जो सराहनीय कदम उठाए, उसी तरह सेतु समुद्रम और वंदे भारत मिशन जैसे अभिनव मिशनों के जरिए विदेशों में रह रहे लोग व पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियों की सकुशल वापसी के लिए मोदी सरकार लगातार सराहनीय प्रयास कर रही है।


इसी मामले को लेकर हमारे आग्रह पर विदेश राज्यमंत्री वी मुरलीधरन ने पिछले दिनों वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से विदेशों में पढ़ाई कर रहे राजस्थानी विद्यार्थियों व उनके अभिभावकों के साथ संवाद कर उन्हें आश्वस्त किया था कि विदेशों में रहने वाली सभी भारतीयों की सकुशल वापसी के लिए भारत सरकार लगातार प्रयासरत है।

चरणबद्ध तरीके से सभी को स्वदेश लाया जाएगा, जो उन्होंने आश्वासन दिया वो अब पूरा हो रहा है, अब विदेशों से राजस्थानी अपने प्रदेश पहुंच सकेंगे और साथ ही अन्य राज्यों के लोग अपने-अपने प्रदेश पहुंच सकेंगे।


उल्लेखनीय है कि इसी साल 20 मार्च को विदेश मंत्री एस जयशंकर से डॉ. सतीश पूनियां ने दिल्ली में मुलाकात कर इस पूरे मामले से अवगत कराया था।

इस दौरान उन्होंने राजस्थान के विद्यार्थियों व लोगों की बात उनके सामने रखी थी तो उन्होंने आग्रह स्वीकार कर विदेश में रहने वाले भारतीय लोगों व विद्यार्थियों के लिए हेल्पलाइन शुरू करवाई थी और हालात सामान्य होने पर सभी की वापसी का आश्वासन दिया था, जो अब पूरा होना लगा है।