राजस्थान में मरीज घर बैठे डॉक्टर को दिखा सकते हैं, सरकार ने मुहैया करवाई यह सर्विस

-टेली कंसलटेंसी सेवाएं अब ई-मित्र के माध्यम से भी उपलब्ध।

नेशनल दुनिया, जयपुर।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. रघु शर्मा ने कहा कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रारंभ की गई टेली कंसलटेंसी सेवाओं का लाभ प्रदेश के समस्त ई-मित्र केंद्रों के माध्यम से भी किया जा सकता है।

डाॅ. शर्मा ने बताया कि कोरोना को ध्यान में रखते हुए प्रदेशवासियों को सामान्य चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए 4 मई से टेली कंसलटेंसी सेवा का शुभारंभ किया गया था और इसके लिए ई संजीवनीओपीडी डॉट इन पोर्टल लाॅन्च किया गया था।

इसके जरिए आमजन घर बैठे गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा परामर्श व सेवाएं निशुल्क प्राप्त कर सकते हैं।

चिकित्सा मंत्री ने बताया कि आमजन की सुविधा के लिए अब इस सेवा को ई मित्र के माध्यम से भी सुलभ करवाया गया है।

आमजन प्रातः 8 से अपरान्ह 2 बजे तक ई मित्र के माध्यम से भी टेली कंसलटेंसी सेवा के लिए आनलान पंजीयन कर उपचार व परामर्श प्राप्त कर सकते हैं।

मातृ, शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस सेवाएं नियमित की गईं नियमित
डाॅ. शर्मा ने बताया कि प्रदेश भर में प्रत्येक गुरुवार को मातृ, शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस का आयोजन किया जाता है।

कोरोना के कारण कई क्षेत्रों में इस दिवस का आयोजन नियमित रूप से नहीं हो पा रहा था।

इसके महत्व को ध्यान में रखते हुए गुरुवार (7 मई) से इस दिवस का आयोजन नियमित रूप से प्रारंभ कर दिया गया है।

चिकित्सा मंत्री ने बताया कि गुरुवार को सीएचसी, पीएचसी तथा सब सेंटर के साथ ही आंगनबाड़ी केद्रों पर सफलतापूर्वक मातृ, शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस का आयोजन किया गया।

यह भी पढ़ें :  ACB की कार्रवाई के बाद अशोक गहलोत और सचिन पायलट गुट एकबार फिर से आमने-सामने, विपक्ष के पास मौका

उन्होंने बताया कि इस दिवस पर गर्भवती महिलाओं एवं 5 वर्ष तक के बच्चोें की स्वास्थ्य जांच व टीकाकरण किया जाता है।

उन्होंने प्रदेशवासियों से कोरोना संक्रमण से बचाव के उपाय अपनाते हुए इस दिवस पर समस्त गर्भवती महिलाओं एवं 5 वर्ष तक के बच्चोें की स्वास्थ्य जांच व टीकाकरण करवाने का आव्हान किया है।